• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Farmers' Protest In Kawardha; Raipur Jabalpur Road Remained Closed For One And A Half Hours, People Were Troubled For Hours In The Scorching Sun

कवर्धा में किसानों का चक्काजाम:​​​​​​​डेढ़ घंटे रायपुर-जबलपुर मार्ग रहा बंद, चिलचिलाती धूप में घंटों परेशान होते रहे लोग; 300 किसानों ने बोनस राशि देने समेत तमाम मांगों को लेकर जमकर बोला हल्ला

कवर्धा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किसानों ने चक्काजाम दोपहर 2.30 बजे शुरू किया था। जो शाम 4.30 बजे तक चलता रहा। - Dainik Bhaskar
किसानों ने चक्काजाम दोपहर 2.30 बजे शुरू किया था। जो शाम 4.30 बजे तक चलता रहा।

​​​​​​छत्तीसगढ़ के कवर्धा में किसानों ने एक बार फिर से अब राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस बार 300 से अधिक किसानों ने गन्ना किसानों को बोनस राशि देने समेत तमाम मांगों को लेकर चक्काजाम किया है। जिसकी वजह से रायपुर-जबलपुर मार्ग डेढ़ घंटे तक जाम रहा है। वहीं, जाम की वजह से आने जाने वाले लोगों को भी चिलचिलाती धूप में खासा परेशान होना पड़ा है।

जोराताल गांव के पास जुटे किसान

दरअसल, भारतीय किसान संघ ने अपनी मांग मंगवाने पूरे जिले भर के किसानों को इस आंदोलन में शामिल होने कहा था। जिसके कारण ही सोमवार को बड़ी संख्या में किसान रायपुर से सिमगा-कवर्धा होते हुए जबलपुर जाने वाली नेशनल हाईवे जोराताल गांव के पास जमा हुए थे। इस दौरान उन्होंने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला है। यहां किसानों ने दोपहर 2.30 बजे से चक्काजाम शुरू किया था, जो शाम के करीब 4 बजे तक चलत रहा। जाम की वजह से आने जाने वाले लोग परेशान होते रही। वहीं इस मार्ग पर गाड़ियों की लंबी लाइन भी घंटों लगी रही। हालांकि पुलिस ने डेढ़ घंटे बाद जाम को किसी तरह खुलवा लिया है।

भारतीय किसान संघ के बैनर तले ये प्रदर्शन किया गया है।
भारतीय किसान संघ के बैनर तले ये प्रदर्शन किया गया है।

किसानों की ये हैं प्रमुख मांगे

  • किसानों ने जिले के सहसपुर लोहारा ब्लॉक अंतर्गत सुतियापाठ नहर विस्तार पर सरकार द्वारा अब तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं करने और किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया है। किसानों की मांग है कि इस क्षेत्र के प्रस्तावित सभी 26 गांव में तुरंत नहर निर्माण करने टेंडर जारी किया जाए।
  • सोसाइटियों से किसानों को खाद नहीं मिल पा रहा है। जिसकी वजह से किसान परेशान हैं। किसानों का आरोप है कि यही खाद सोसाइटियों से निजी दुकानों में अधिक दामों में दिया जा रहा है। किसानों ने मांग की है कि जल्द से जल्द सोसाइटियों में पर्याप्त खाद का भंडारण किया जाए।
  • जिले के गन्ना किसानों की बोनस राशि जो बीते वर्ष से लंबित है, उसे तुरंत किसानों को दी जाए।
  • जिले में बिजली की समस्या लगातार बढ़ रही है। इसके कारण किसान परेशान हैं। किसानों की मांग है कि तीन दिन के भीतर बिजली व्यवस्था सही की जाए।
जोराताल गांव के पास बड़ी संख्या में किसान जुटे थे।
जोराताल गांव के पास बड़ी संख्या में किसान जुटे थे।

बिजली ऑफिस पर दिया था धरना

इसके पहले भी किसानों ने यहां बिजली की कमी क लेकर प्रदर्शन किया था। उस दौरान 20 से अधिक गांवों के किसान बिजली ऑफिस में ही धरने पर बैठ गए थे। किसानों ने कहा था कि बिजली समस्या के चलते उनको खेती बाड़ी में खासा परेशानी होने हो रही है। इसके बाद अब फिर किसानों ने प्रदर्शन कर जल्द ही इस समस्या को दूर करने की मांग राज्य सरकार से की है।

खबरें और भी हैं...