पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

JCCJ विधायक और BJP नेता पर FIR:प्रमोद शर्मा पर थाने से आरोपी को छुड़ाने का आरोप; BJP जिलाध्यक्ष डॉ. जांगड़े पर सरकारी काम में बाधा डालने का मामला

बलौदाबाजार5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बलौदाबाजार से JCCJ विधायक प्रमोद शर्मा और BJP जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक डॉ. सनम जांगड़े सहित उनके साथियों पर शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज किया गया है। - Dainik Bhaskar
बलौदाबाजार से JCCJ विधायक प्रमोद शर्मा और BJP जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक डॉ. सनम जांगड़े सहित उनके साथियों पर शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज किया गया है।

छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार से जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी (JCCJ) विधायक प्रमोद शर्मा और BJP जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक डॉ. सनम जांगड़े सहित उनके साथियों पर शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज किया गया है। विधायक प्रमोद शर्मा पर थाने से एक आरोपी को छुड़ाने और चक्काजाम का आरोप है, जबकि पूर्व विधायक पर रास्ता बाधित कर लोगों को परेशानी में डालने का आरोप लगा है। दोनों के खिलाफ कोतवाली थाने में FIR हुई है।

कोतवाली थाने के सामने विधायक प्रमोद शर्मा ने अपने साथियों के साथ प्रदर्शन कर चक्काजाम किया था। एडिशनल SP पितांबर पटेल ने बताया कि विधायक शर्मा ने कोतवाली थाने में घुसकर एक आरोपी को छुड़ाने का भी प्रयास किया और शासकीय कार्य में बाधा डाली। उन्होंने चक्काजाम किया, वहीं पूर्व विधायक डॉ. सनम जांगडे और उनके साथियों ने ट्रैफिक थाने के सामने आवागमन बाधित किया था।

विधायक प्रमोद शर्मा ने थाना प्रभारी पर आरोप लगाया था कि 20 करोड़ की ठगी वाले मेवा चोपड़ा मामले में TI ने केस को कमजोर करने को 20 लाख लिए हैं।
विधायक प्रमोद शर्मा ने थाना प्रभारी पर आरोप लगाया था कि 20 करोड़ की ठगी वाले मेवा चोपड़ा मामले में TI ने केस को कमजोर करने को 20 लाख लिए हैं।

पुलिस निकलवा रही वीडियो फुटेज, इसके बाद आगे होगी कार्रवाई
एडिशनल SP पितांबर पटेल ने बताया कि घटना का वीडियो फुटेज भी निकाला जा रहा है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 11 सितंबर को विधायक प्रमोद शर्मा अपने साथियों के साथ कोतवाली के बाहर पहुंच गए और TI पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए धरने पर बैठ गए थे, जबकि BJP जिलाध्यक्ष डॉ. जांगड़े ने यातायात प्रभारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए उन्हें वहां से हटाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया था।

विधायक ने थाना प्रभारी पर लगाए थे गंभीर आरोप
विधायक प्रमोद शर्मा ने थाना प्रभारी पर आरोप लगाया था कि 20 करोड़ की ठगी वाले मेवा चोपड़ा मामले में TI ने केस को कमजोर करने के लिए 20 लाख रुपए लिए हैं। इस ठगी के प्रकरण के शिकार अन्य कई लोग भी थाने में रिपोर्ट लिखाने पहुंच रहे है तो उनकी रिपोर्ट तक नही लिखी जा रही है। मध्यप्रदेश की शराब को पुलिस की पेट्रोलिंग गाड़ियों से ही डमरू, मोहतरा, रसेडा आदि क्षेत्रों में पहुंचाने का काम TI कर रहे हैं।

BJP ने हेलमेट के नाम पर अवैध वसूली का लगाया था आरोप
वहीं दूसरी ओर ट्रैफिक थाने के बाहर प्रदर्शन के दौरान कहा था कि जब से यातायात प्रभारी के रूप में प्रमोद सिंह यहां पदस्थ हुए हैं, तब से यहां की यातायात व्यवस्थाएं पूरी तरह से चरमरा गई है। साथ ही भ्रष्टाचार भी चरम पर आ पहुंचा है। आरोप लगाया था कि ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों में आने वाले दोपहिया वाहन चालक गरीब आदिवासी वाहन संचालकों को हेलमेट नहीं पहनने के नाम पर तथा चालान के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है।

खबरें और भी हैं...