• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Gaurella Pendra Marwahi (GPM) District News; Chhattisgarh PWD Retaired Employee Sucide By Hanging After Killing His Wife

पत्नी की हत्या के बाद खुदकुशी कर ली:शराब पीकर रोज झगड़ा करती थी पत्नी; रिटायर्ड PWD कर्मचारी ने गला काटकर मार डाला, फिर खुद भी फांसी लगाकर जान दे दी

पेंड्रा2 महीने पहले
समय लाल की पत्नी सुशीला शराब पीने की आदी थी।

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में PWD के रिटायर्ड कर्मचारी ने घरेलू विवाद के चलते गला काटकर अपनी पत्नी की हत्या कर दी। इसके बाद खुद भी जान दे दी। रिटायर्ड कर्मचारी का शव पत्नी की लाश के पास ही फंदे से लटकता मिला है। बताया जा रहा है कि महिला रोज शराब पीकर झगड़ा करती थी। इसको लेकर गांव में पंचायत भी हुई थी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। घटना मरवाही थाना क्षेत्र की है।

जानकारी के मुताबिक, करगीकला गांव निवासी समय लाल पनिका (65) लोक निर्माण विभाग (PWD) से रिटायर्ड हुआ था। वह अपनी पत्नी सुशीला बाई (50) के साथ रहता था। सुशीला उसकी दूसरी पत्नी थी। बताया जा रहा है कि सुशीला और समय लाल के बीच अक्सर घरेलू विवाद होता था। इसके चलते कई बार सामाजिक बैठक भी बुलाई गई। दोनों को समझाया गया, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला।

PWD के रिटायर्ड कर्मचारी ने घरेलू विवाद के चलते अपनी पत्नी को गला काट कर मार डाला। इसके बाद खुदकुशी कर ली।
PWD के रिटायर्ड कर्मचारी ने घरेलू विवाद के चलते अपनी पत्नी को गला काट कर मार डाला। इसके बाद खुदकुशी कर ली।

हैडपंप पर पड़ोसी महिला पानी भरने गई तो शव लटकता देखा
पुलिस ने बताया कि रविवार दोपहर करीब 1 बजे पड़ोस में रहने वाली मीराबाई हैडपंप पर पानी भरने के बाद लौट रही थी। इसी दौरान उसने देखा कि समय लाल के घर का दरवाजा खुला हुआ है। अंदर समय लाल फंदे से लटका हुआ था। इसके बाद मीराबाई ने इसकी सूचना सरपंच पति विशाल सिंह उरैती को दी। इसके बाद सभी समय लाल के घर पहुंचे तो देखा कि उसका शव फंदे से लटक रहा था और पास में ही सुशीला की गर्दन कटी लाश पड़ी थी।

पति को बेटियों से भी नहीं मिलने देती थी सुशीला
ग्रामीणों ने बताया कि समय लाल की 4 बेटियां हैं और उनकी शादी हो चुकी है। सुशीला शराब पीने की आदी थी। इसी बात को लेकर घर में झगड़ा भी होता था। बेटियों की शादी के बाद सुशीला ने समय लाल को उनसे मिलने से भी रोक दिया था। इसके चलते वह काफी परेशान रहता। सुशीला को पंचायत और स्थानीय लोगों ने कई बार समझाया, लेकिन वह मानती ही नहीं थी।

फॉरेंसिक टीम ने घटना स्थल से साक्ष्य एकत्रित किए हैं
थाना प्रभारी नरेंद्र सिंह ने बताया कि बिलासपुर से आई फारेंसिक टीम ने घटना स्थल से साक्ष्य एकत्रित किया है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद स्थिति और स्पष्ट हो पाएगी। उन्होंने कहा कि परिजनों ने आशंका जताई है कि घटना का कारण आपसी विवाद हो सकता है। पुलिस ने मौके से एक हंसिया बरामद किया है। उसी से महिला की गर्दन काटे जाने की आशंका है।

खबरें और भी हैं...