पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेत के लिए चीर दिया अरपा का सीना:​​​​​​​बिलासपुर में माफिया ने बना दिया नदी में रेत घाट; सुबह मीडिया के साथ JCCJ कार्यकर्ता पहुंचे तो ट्रेक्टर छोड़कर भागे ड्राइवर

बिलासपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रभात चौक चिंगराजपारा से लेकर अपोलो के पीछे पिपरपारा तक सैकड़ो ट्रैक्टर  बिना पर्ची और बिना अनुमति के खनन में जुटे थे। - Dainik Bhaskar
प्रभात चौक चिंगराजपारा से लेकर अपोलो के पीछे पिपरपारा तक सैकड़ो ट्रैक्टर  बिना पर्ची और बिना अनुमति के खनन में जुटे थे।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में अवैध खनन का खेल जारी है। इसके चलते अभी तक कई लोग जान तक गवां चुके हैं। मंगला के पाठ बाबा घाट और लोखंडी रेत घाट के बाद अब माफिया ने रेत के लिए अरपा नदी का सीना भी चीर दिया है। वहां नया रेत घाट बना दिया। जहां दिन-रात उत्खनन चल रहा है। खास बात यह है कि यह सब लॉकडाउन के दौरान भी जारी है। इसके बाद भी खनिज विभाग के अफसर खामोश हैं।

जोगी कांग्रेस ने जिलाध्यक्ष विक्रांत तिवारी ने बताया कि अरपा का दोहन लगातार हो रहा है। जो भी लोग इसके पीछे हैं, उनको बेनकाब किया जाएगा।
जोगी कांग्रेस ने जिलाध्यक्ष विक्रांत तिवारी ने बताया कि अरपा का दोहन लगातार हो रहा है। जो भी लोग इसके पीछे हैं, उनको बेनकाब किया जाएगा।

दरअसल, छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (JCCJ) के कार्यकर्ता और मीडिया शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे अरपा किनारे पहुंचे तो भगदड़ मच गई। चालक ट्रैक्टर छोड़कर भागने लगे। प्रभात चौक चिंगराजपारा से लेकर अपोलो के पीछे पिपरपारा तक सैकड़ो ट्रैक्टर बिना पर्ची और बिना अनुमति के खनन में जुटे थे। नदी किनारे छोटे-छोटे कुटियानुमा कमरे बना दिए गए थे। पूछने पर किसी भी ट्रैक्टर चालक के पास खनन की पर्ची नहीं मिली।

रात भर निगरानी की, खनन का वीडियो बनाया
जोगी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस कार्रवाई से पहले शिकायत मिलने पर रात भर वहां रुक निगरानी की। बताया कि खनन रात से ही जारी था। यह रोज ही चलता है। सुबह सैकड़ों की संख्या में ट्रैक्टरों पर लादकर रेत भेजी जा रही थी। सुबह हुई इस पूरी कार्रवाई का कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने वीडियो भी बनाया है। फिलहाल खनिज विभाग के अफसरों से इसकी शिकायत करने की तैयारी की जा रही है। इसके बाद आगे तय करेंगे।

बिलासपुर से कोटा तक चल रहा अवैध कारोबार
जोगी कांग्रेस ने जिलाध्यक्ष विक्रांत तिवारी ने बताया कि अरपा का दोहन लगातार हो रहा है। जो भी लोग इसके पीछे हैं, उनको बेनकाब किया जाएगा। ये बड़े ही सुनियोजित ढंग से अवैध व्यापार बिलासपुर से कोटा तक चलाया जा रहा है। गुडों नेताओ और ऊंची पकड़ के लोगों की शह पर ही इतना बड़ा माफिया खुलेआम काम कर सकता है। इसी कारण से अफसर मौन हैं।

खबरें और भी हैं...