कवर्धा में नदी-नाले उफान पर:फिर भी लोग जान जोखिम में डालकर कर रहे नाला पार, कोई पैदल जा रहा, तो कोई बाइक और ट्रैक्टर निकाल रहा; बड़ा हादसा होने का खतरा

कवर्धा/ बेमेतरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाइक सवार की बाइक कुछ देर तक नाले में फंसी रही। उसने किसी तरह से बाइक चालू कर नाले को पार किया है। - Dainik Bhaskar
बाइक सवार की बाइक कुछ देर तक नाले में फंसी रही। उसने किसी तरह से बाइक चालू कर नाले को पार किया है।

छत्तीसगढ़ में पिछले दिनों हुई बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। यही हाल कवर्धा जिले में भी है। यहां भी पिछले 10 दिनों से हुई बारिश के चलते नदी और नालों का जलस्तर बढ़ा हुआ है। इसके बावजूद लोग लापरवाही बरत रहे हैं और उफनते नाले को पार कर रहे हैं।

ऐसे ही तस्वीर शनिवार को सामने निकलकर आई पंडरिया ब्लॉक के हरिनाला से, जिसमें लोग हरि नाला को जान जोखिम में डालकर पार करते हुए दिखे। नाले को कोई पैदल, तो कोई बाइक या ट्रैक्टर ही लेकर ही पार कर गया। ऐसे में कोई बड़ा हादसा होना का खतरा बना हुआ है। नाले का जलस्तर बढ़ने के बावजूद प्रशासन ने लोगों को नाला पार करने से रोकने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की है। ये नाला पोंड़ी-बिलासपुर नेशनल हाईवे पर स्थित है। जिसके कारण भी बड़ी संख्या में लोग यहां से निकलते हैं।

ट्रैक्टर को इस तरह से पार कराया गया।
ट्रैक्टर को इस तरह से पार कराया गया।

बताया गया कि पिछले 10 दिनों से हुई बारिश के कारण हरि नाला में काफी पानी भर गया है। यह भी पता चला है कि इससे करीब 7 किलोमीटर दूर पर ही क्रांति जलाशय है, जिसका पानी भी इसी नाले में आता है। बरसात के मौसम में ऐसा चौथी बार है कि जब इस नाले का जलस्तर इतना बढ़ गया है। शनिवार को नाला पार करने सुबह नाले के दोनों तरफ कुछ देर के लिए गाड़ियों का जाम भी लगा गया था।

स्कू्ली बच्चे भी नाला पर करके ही रोज स्कूल जाते हैं।
स्कू्ली बच्चे भी नाला पर करके ही रोज स्कूल जाते हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक जिले में एक जून से अब तक 818.MM बारिश दर्ज की गई है। हलांकि शुक्रवार रात से बारिश रुकी हुई है, शनिवार को भी सुबह से जिले के ज्यादातर इलाकों में धूप छाए हुए हैं। मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि आने वाले दिनों में भी जिले में बारिश हो सकती है।

पुल खुलने के बाद आने-जाने वाले लोगों ने पुल पर रुक कर सेल्फी ली।
पुल खुलने के बाद आने-जाने वाले लोगों ने पुल पर रुक कर सेल्फी ली।

बेमेतरा में 3 दिन बाद खुला पुल

इधर, बेमेतरा में 14 सितंबर की रात 9 बजे से बंद सेमरिया पुल को खोल दिया गया है। यहां भी अच्छी बारिश के चलते नदी में पानी बढ़ने के कारण पुल डूब गया था। जिसके कारण इसे बंद कर दिया गया था। अब बारिश कम होने के बाद पानी पुल से नीच गया है, तब पुल को शनिवार की सुबह 6 बजे से खोल दिया गया है। ये पुल सेमरिया गांव में शिवनाथ नदी पर बनया गया है, जो बेमेतरा को मुंगेली और बिलासपुर जिले से जोड़ता है।

खबरें और भी हैं...