पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अंबिकापुर में बेलगाम अफसरशाही:प्रशासन ने 7 एकड़ में खड़ी धान की फसल को जेसीबी चलवाकर रौंद डाला, तर्क- अवैध कब्जा था; किसान बोले- अब हम कहां जाएं

अंबिकापुर2 दिन पहले
फोटो अंबिकापुर की है। अनाज को मिट्‌टी में मिलाकर अब यहां मंडी और पीएम आवास की नीव रखी जाएगी।
  • महापौर ने खुद माना- फसल कटने के बाद भी जमीन से कब्जा हटवाया जा सकता था
  • किसानों का दावा- बिना नोटिस दिए ही आ गए अधिकारी और कर ली अपनी मनमानी

अंबिकापुर नगर निगम इलाके में शनिवार और रविवार को खेत से अवैध कब्जा हटाया गया। इस कार्रवाई में प्रशासन ने 7 एकड़ में खड़ी धान की फसल पर जेसीबी चलवा दी। अब सवाल उठ रहे हैं कि प्रशासन को इतने दिनों तक या तो फसल के तैयार होने का इंतजार था या फसल कटने तक सब्र नहीं कर सका।

जिन किसानों को नुकसान हुआ है, वे पूछ रहे हैं कि उनका क्या होगा? मगर जवाब देने वाला कोई नहीं है। इस मामले में महापौर अजय तिर्की ने कहा है कि अवैध कब्जा था। यहां मंडी और पीएम आवास के प्रोजेक्ट शुरू हो रहे हैं।

हम कहां जाएं अब...
किसान अशोक विश्वास ने बताया- मैं पढ़ा लिखा नहीं हूं, अफसर यहां आते हैं और चले जाते हैं। अब कार्रवाई कर रहे हैं। मैं कहां जाऊंगा। अब मेरे परिवार का क्या होगा। किसान महेन्द्र प्रसाद कुशवाहा ने बताया कि लगभग 7 एकड़ में खड़ी फसल को मिट्टी में मिला दिया गया। हम सालों से यहीं खेती कर रहे थे, तब किसी को परेशानी नहीं हुई। हजारों रुपए खर्च करवाकर फसल लगाई, अब इस पर जेसीबी चला दी गई। हमें किसी प्रकार की सूचना नहीं दी गई।

फसल लगभग तैयार हो चुकी थी। इस तरह की कार्रवाई से लोगों में गुस्सा है।
फसल लगभग तैयार हो चुकी थी। इस तरह की कार्रवाई से लोगों में गुस्सा है।

फसल कटने का इंतजार हो सकता था
महापौर अजय ने कहा- मैं ये मानता हूं कि फसल कटने का इंतजार किया जा सकता था। जहां फसल नहीं है, वहां प्रोजेक्ट की शुरूआत की जा सकती थी और फसल के हटते ही इस हिस्से में काम किया जा सकता था। यह मानवता के लिहाज से बेहतर होता। यह कार्रवाई राजस्व विभाग की है। पटवारी, तहसीलदार सभी ने जाकर जगह को देखा और फैसला लिया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें