सनकी ने किया परिवार पर हमला:सो रही मां को चाकू से मारकर मार डाला, बचाने आई बड़ी बहन और भतीजे पर भी किए वार; आरोपी युवक गिरफ्तार

अंबिकापुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने बताया कि सुबह वारदात की सूचना मिली थी। इसके बाद गांव में घेराबंदी कर आरोपी अजय को गिरफ्तार कर लिया गया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने बताया कि सुबह वारदात की सूचना मिली थी। इसके बाद गांव में घेराबंदी कर आरोपी अजय को गिरफ्तार कर लिया गया है।

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में एक युवक ने सोमवार देर रात अपनी सो रही मां पर चाकू से वार कर उसकी हत्या कर दी। इस दौरान बीच-बचाव करने आई बड़ी बहन और भतीजे पर भी चाकू से वार किया। दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इसके बाद आरोपी भाग निकला। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने मंगलवार सुबह आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वह मानसिक रूप से बीमार बताया जा रहा। मामला मैनपाट इलाके का है।

कमलेश्वरपुर थाना क्षेत्र निवासी हीरामणि (55) पत्नी चंदन मांझी सोमवार रात अपने सबसे छोटे बेटे अजय मांझी, बेटी शांति और पोते आशीष के साथ एक कमरे में सो रही थीं। परिवार के अन्य सदस्य दूसरे कमरों में सोए थे। रात करीब 11.30 बजे अजय उठा और किचन से चाकू ले आया। उसने चाकू से सबसे पहले अपनी मां पर वार किया। उनकी चीख सुनकर शांति और आशीष ने बचाने आए तो उन पर भी हमला कर दिया।

रात करीब 11.30 बजे अजय उठा और किचन से चाकू ले आया। उसने चाकू से सबसे पहले अपनी मां पर वार किया।
रात करीब 11.30 बजे अजय उठा और किचन से चाकू ले आया। उसने चाकू से सबसे पहले अपनी मां पर वार किया।

बड़े भाई ने पकड़ कर रस्सी से बांधा, लेकिन भाग निकला
चीख पुकार सुनकर दूसरे कमरे में सो रहे बीच वाले बेटे की नींद खुल गई। वह कमरे में पहुंचा और छोटे भाई अजय को किसी तरह पकड़ कर रस्सी से बांधा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने से पहले ही अजय रस्सी खोलकर भाग निकला। रात में ही सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां हीरामणि को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि शांति और आशीष की हालत गंभीर बनी हुई है।

चीख सुनकर शांति और आशीष ने बचाने आए तो उन पर भी हमला कर दिया।
चीख सुनकर शांति और आशीष ने बचाने आए तो उन पर भी हमला कर दिया।

परिजन बोले- आरोपी युवक को पड़ते हैं पागलपन के दौरे
पुलिस ने बताया कि सुबह वारदात की सूचना मिली थी। इसके बाद गांव में घेराबंदी कर आरोपी अजय को गिरफ्तार कर लिया गया है। घर के दोनों सदस्यों की हालत ठीक नहीं है। सभी लोग अस्पताल में हैं, ऐसे में ज्यादा पूछताछ नहीं हो सकी है। वहीं परिजनों का कहना है कि अजय की की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। पहले भी उसे पागलपन के दौरे पड़ते रहे हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...