पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • MP Young Man Murder Case In Chhattisgarh; Mob Lynching Video Of Suspected Of Animal Trafficking In Gorela Pendra Marwahi District Goes Viral

CG में MP के युवक से हैवानियत का वीडियो:पशु ले जा रहे लोग गिड़गिड़ाते हुए कहते रहे- चोरी नहीं की, हम गरीब आदमी हैं; फिर भी बेरहमी से पीट-पीटकर कर दी एक की हत्या

गौरैला19 दिन पहले
वीडियो में दिखाई दे रहा है कि सूरत बंजारे के हाथ रस्सियों से पीछे कर बांधे गए हैं। उसे इतना पीटा गया है कि वह अधमरी हालत में है और बेहोश सा होकर जमीन पर गिर रहा है।

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में पशु तस्करी के शक में मध्य प्रदेश के युवक सूरत बंजारे की हत्या और अन्य से मारपीट का वीडियो सामने आया है। युवक कहते रहे कि उन्होंने चोरी नहीं की, लेकिन भीड़ पीटती रही। सूरत के हाथों को रस्सी से बांध कर पीटा गया। जब वह बेहोश होने लगा तो उसे पेशाब पिलाने का भी प्रयास किया। इस हमले में 5 लोग घायल हैं। वहीं सरपंच सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

युवक से कह रहे हैं कि तस्करी कबूल कर, वो कहता रहा, नहीं की चोरी

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि युवक पर ग्रामीण पशु तस्करी करने की बात कबूल करने का दबाव बना रहे हैं। उसका सिर भी फोड़ दिया। जबकि युवक बार-बार कह रहा है कि उसने चोरी और तस्करी नहीं की। वह गरीब आदमी है। उसे मवेशियों को पहुंचाने के लिए अशोक पनिका ने कहा था। वही खरीद कर भी लाया। वह तो गरीब आदमी है, 400 रुपए मिले तो पहुंचाने के लिए तैयार हो गया। वह मवेशियों के मालिक को बुला रहा है।

पुलिस ने 7 और लोगों को हिरासत में लिया है। उनकी शिनाख्त परेड कराई जा रही है।
पुलिस ने 7 और लोगों को हिरासत में लिया है। उनकी शिनाख्त परेड कराई जा रही है।

सूरत अधमरा होकर गिर पड़ा तो भी उसे पीटते रहे

एक वीडियो अगले दिन सुबह 27 मई का है। इसमें दिखाई दे रहा है कि सूरत बंजारे के हाथ रस्सियों से पीछे कर बांधे गए हैं। उसे इतना पीटा गया है कि वह अधमरी हालत में है और बेहोश सा होकर जमीन पर गिर रहा है। इसके बाद भी आरोपी उसे गालियां दे रहे हैं और चिल्ला रहे हैं कि इसके मुंह पर पेशाब कर दो। आशंका जताई जा रही है कि ऑर्गन डैमेज होने से सूरत की मौत हुई है। हालांकि अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है।

पशु तस्करी के शक में ग्रामीणों ने 26 मई की रात लवकेश और विकास को साल्हेखोरी गांव के पास पकड़ा था। इनको सामुदायिक भवन में बंद कर दो दिन तक लाठी-डंडों से पीटा गया।
पशु तस्करी के शक में ग्रामीणों ने 26 मई की रात लवकेश और विकास को साल्हेखोरी गांव के पास पकड़ा था। इनको सामुदायिक भवन में बंद कर दो दिन तक लाठी-डंडों से पीटा गया।

अब तक 14 फरार हैं, कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी

पुलिस ने इस मामले में डाडीबहरा निवासी जनपद सदस्य पति सुखराम भैना, साल्हेघोरी सरपंच पुरुषोत्तम बैगा, पूर्व सरपंच कृष्णा कुमार बैगा, सौरभ कुमार, धरम सिंह बैगा, रामकरण यादव को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि पडखुरी निवासी महेंद्र प्रजापति और शिव महेश प्रजापति को रविवार सुबह गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके अलावा 14 अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है। इनके खिलाफ मारपीट, बंधक बनाने और हत्या के आरोप हैं। 14 आरोपी अब भी फरार हैं। पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

सरपंच सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 14 अभी भी फरार हैं।
सरपंच सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 14 अभी भी फरार हैं।

पशु तस्करी के शक में ग्रामीणों ने पीट-पीट कर मार डाला था

पशु तस्करी के शक में ग्रामीणों ने 26 मई की रात लवकेश और विकास को साल्हेखोरी गांव के पास पकड़ा था। इन युवकों को सामुदायिक भवन में बंद कर दो दिन तक लाठी-डंडों से पीटा गया। पता चलने पर जब लवकेश का भाई मुकेश और अमरकंटक के मेड़ाखार निवासी चाचा सूरत बंजारा 27 मई को सामुदायिक भवन पहुंचे। इस दौरान आरोपियों ने इन्हें पकड़ लिया और पिटाई शुरू कर दी। जिसके चलते सूरत बंजारे की मौत हो गई थी।

खबरें और भी हैं...