पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रेमी ने की युवती की हत्या:क्राइम पेट्रोल सीरियल देख बनाया प्लान; प्रेमिका के पिता को फंसाने के लिए फोन से कराया मैसेज- मुझे मेरे पिता से जान का है खतरा

कोरबा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोरबा में युवती की उसके प्रेमी ने ही हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने का तरीका अपनाया वो दिल दहला देने वाला है। - Dainik Bhaskar
कोरबा में युवती की उसके प्रेमी ने ही हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने का तरीका अपनाया वो दिल दहला देने वाला है।

छत्तसीगढ़ के कोरबा में लड़की की हत्या के मामले में पुलिस ने उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी और लड़की के बीच पिछले 7 साल से अफेयर था। इस बीच लड़की किसी और लड़के से बातचीत करने लगी जिसका पता आरोपी को चल गया। इसके बाद उसने क्राइम पेट्रोल सीरियल देखकर हत्या की साजिश रची और फिर शनिवार की रात साड़ी से लड़की का गला घोंटकर हत्या कर दी। आरोपी ने मामले में लड़की के पिता को फंसाने की साजिश भी रची थी। उसने लड़की को धमका कर अपने मोबाइल पर मैसेज मंगवाया था जिसमें लिखा था कि मुझे बचा लो, मेरे पिताजी मुझे मार डालेंगे।

पूरा मामला कटघोरा थाना क्षेत्र का है। मृतका की पहचान कृष्णा गोस्वामी जबकि आरोपी की पहचान आमाभाठा निवासी संजय चौहान के रूप में की गई है। कृष्णा कटघोरा के तुमान गांव में रहती थी। उसके प्रेमी संजय चौहान का कृष्णा गोस्वामी के घर आना जाना भी था। पिछले कुछ दिनों पहले कृष्णा की दोस्ती कटघोरा के ही निमेन्द्र देवांगन से हो गई। कृष्णा की निमेंद्र से दोस्ती ऑनलाइन मोबाइल गेम के जरिए हुई थी। उसके बाद कृष्णा और निमेंद्र मोबाइल से और चैटिंग के जरिए बातचीत करने लगे।

पुलिस हिरासत में आरोपी संजय चौहान।
पुलिस हिरासत में आरोपी संजय चौहान।

तू मझे धोखा दे रही है...

इस बीच निमेंद्र से बातचीत की भनक संजय चौहान को लग गई। इसके बाद संजय शनिवार को कृष्णा के घर पहुंचा और उससे कहा कि तू मुझे धोखा दे रही है और मैं तुझे मार डालूंगा। कृष्णा ने संजय की बातों पर ध्यान ही नहीं दिया। देर रात करीब डेढ़ बजे संजय दोबारा कृष्णा के घर पहुंचा। इसके बाद उसने कृष्णा को डराकर उसके मोबाइल से अपने मोबाइल और निमेंद्र के फोन पर मैसेज करवाया कि मुझे बचा लो, मेरे पिताजी मुझे मार डालेंगे। फिर संजय ने उसी के घर में साड़ी से कृष्णा का गला घोंटकर हत्या कर दी। सुबह जब घर वाले सो कर उठे तब मामले का पता चला। इसके बाद इसकी शिकायत कटघोरा थाने में दर्ज कराई गई।

पिता से विवाद का फायदा उठाना चाहता था संजय

पुलिस पूछताछ में ये बात सामने आई की कृष्णा के पिता उसकी शादी सूरजपुर में करना चाह रहे थे। लेकिन बेटी कृष्णा इस शादी को लेकर इनकार कर रही थी जिसे लेकर बाप-बेटी में अक्सर विवाद चलता रहता था ।इस बात की जानकारी संजय को थी और इसी बात का फायदा उठाकर आरोपी ने वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस को भी पिता पर ही शक था

पुलिस ने इस मामले में जो तहकीकात की, उसमें यह बात सामने आई कि कृष्णा ने प्रेमी और निमेंद्र को जो मैसेज किया है, उसके अनुसार कृष्णा को उसके पिता से ही खतरा था। जिसके कारण पुलिस टीम को उसके पिता पर ही शक था। फिर भी पुलिस इस जांच को लेकर संतुष्ट नहीं थी। कटघोरा पुलिस ने पहले कृष्णा के पिता दिगपाल, उसके भाई और फिर संजय चौहान और निमेन्द्र देवांगन को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। सख्ती बरतने पर संजय ने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

संजय भी गलती कर गया

पुलिस की जांच में यह बात भी सामने आई कि संजय अपना मोबाइल कभी बंद नहीं करता था। कृष्णा के घर जाता था तो भी मोबाइल लेकर जाता था लेकिन घटना के दिन उसका मोबाइल बंद था और वह मोबाइल लेकर नहीं गया था। जिससे कि वो पुलिस की पकड़ से दूर रहे। लेकिन संजय की ये चालाकी भारी पड़ गई।

खबरें और भी हैं...