पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गढ़चिरौली में आज बंद, राजनांदगांव में अलर्ट:नक्सली बोले- 21 मई को हुई मुठभेड़ फर्जी, जवानों ने पकड़ने के बाद 13 लोगों को मार डाला; कई जगह पर्चे भी फेंके

राजनांदगांव12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में 21 मई को C-60 फोर्स के जवानों के साथ हुई मुठभेड़ में छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा निवासी नंदनी उर्फ प्रेमबत्ती मंडावी और रोहित उर्फ मनेश भी मारे गए थे। - Dainik Bhaskar
महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में 21 मई को C-60 फोर्स के जवानों के साथ हुई मुठभेड़ में छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा निवासी नंदनी उर्फ प्रेमबत्ती मंडावी और रोहित उर्फ मनेश भी मारे गए थे।

छत्तीसगढ़ के सिलगेर में हुई फायरिंग के विरोध में बंद के बाद अब नक्सलियों ने सोमवार को गढ़चिरौली में बंद बुलाया है। नक्सलियों का आरोप है कि 21 मई को गढ़चिरौली में मुठभेड़ नहीं हुई थी, बल्कि जवानों ने पकड़ने के बाद 13 लोगों की हत्या की है। इसमें एक स्थानीय ग्रामीण किशोर होली भी शामिल है। पुलिस अफसरों ने उसे 2 लाख रुपए का इनामी बताया है। नक्सलियों के इस बंद को देखते हुए छत्तीसगढ़ में राजनांदगांव से लगते बार्डर पर भी अलर्ट कर दिया गया है।

नक्सलियों का आरोप है कि मारा गया एक युवक किशोर होली स्थानीय निवासी था। पुलिस ने उसे 2 लाख रुपए का इनामी बताया है।
नक्सलियों का आरोप है कि मारा गया एक युवक किशोर होली स्थानीय निवासी था। पुलिस ने उसे 2 लाख रुपए का इनामी बताया है।

नक्सल संगठन ने गढ़चिरौली के कुछ हिस्सों में पर्चे फेंककर बंद की धमकी दी है। इसमें उन्होंने पुलिस पर फर्जी एनकाउंटर का आरोप भी लगाया है। फेंके गए पर्चे में नक्सलियों ने लिखा है कि ग्रामीण युवक को मारने के बाद गढ़चिरौली पुलिस ने उसे इनामी बता दिया। जबकि उसका नक्सल संगठन से कोई भी लेना-देना नहीं था। फोर्स पर अत्याचार का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों से बंद में साथ देने की बात कही है। वहीं राजनांदगांव और कांकेर बार्डर के हिस्से में भी जवानों ने सर्च ऑपरेशन तेज किया है।

मुठभेड़ में 7 महिलाओं सहित 13 नक्सली मारे गए थे
महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में एटापल्ली में कसनसूर के पैड़ी गांव के पास 21 मई को C-60 फोर्स के जवानों के साथ मुठभेड़ हुई थी। अफसरों के मुताबिक, वहां 50 से 60 नक्सली एकत्र थे। जवानों के पहुंचते ही नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में 7 महिलाओं सहित 13 नक्सली मारे गए थे। इनमें छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा निवासी 6 लाख रुपए की इनामी नंदनी उर्फ प्रेमबत्ती मंडावी और 2 लाख रुपए का इनामी रोहित उर्फ मनेश उर्फ सोनारू सत्रु भी शामिल है।

खबरें और भी हैं...