पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नक्सलियों का जनपितुरी सप्ताह:सुकमा में जवानों को निशाना बनाने के लिए पाइप बम, दंतेवाड़ा में काटी सड़कें; बीजापुर में सरेंडर माओवादी को अगवा कर ले गए

​​​​​​​जगदलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्तीसगढ़ में नक्सली 5 जून से जनपितुरी सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान लगातार जवानों को टारगेट किया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
छत्तीसगढ़ में नक्सली 5 जून से जनपितुरी सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान लगातार जवानों को टारगेट किया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ में नक्सली 5 जून से जनपितुरी सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान लगातार जवानों को टारगेट किया जा रहा है। सुकमा में जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए निर्माणाधीन सड़क पर पाइप बम के जरिए IED प्लांट किया, वहीं दंतेवाड़ा में कई जगह सड़कें काट दी हैं। हालांकि जवानों ने बम बरामद कर उसे डिफ्यूज कर दिया। दूसरी ओर बीजापुर में एक सरेंडर कर चुके नक्सली को भी अगवा कर ले गए हैं।

चिन्तागुफा-भेज्जी इलाके में निर्माणाधीन सड़क पर नक्सलियों ने दर्जनों IED प्लांट कर रखे हैं।
चिन्तागुफा-भेज्जी इलाके में निर्माणाधीन सड़क पर नक्सलियों ने दर्जनों IED प्लांट कर रखे हैं।

सुकमा : चिंतागुफा-भेज्जी इलाके में निर्माणाधीन सड़क पर मिला IED
जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र चिंतागुफा-भेज्जी इलाके में पिछले कई दिनों से सड़क निर्माण का काम चल रहा है। सुरक्षा के लिए रोजाना सैकड़ो जवानों की तैनाती रहती है। इसे देखते हुए नक्सलियों ने वहां बम प्लांट किया था। CRPF जवानों ने बरामद किया और मौके पर ही बम डिफ्यूज कर दिया। बताया जा रहा है कि चिन्तागुफा-भेज्जी इलाके में निर्माणाधीन सड़क पर नक्सलियों ने दर्जनों IED प्लांट कर रखे हैं। इलाके में फोर्स का मूवमेंट भी बढ़ा है।

दंतेवाड़ा : कई जगह सड़कें काटी, रेलवे ट्रैक की सुरक्षा बढ़ाई गई
दंतेवाड़ा में अरनपुर-पोटाली सड़क को दर्जनों जगह से काट कर मार्ग को बाधित कर दिया है। साथ ही इलाके में कई जगह बैनर-पोस्टर भी लगाए हैं। जिले में ज्यादातर नक्सली रेलवे ट्रैक को भी अपना निशाना बनाते हैं। ऐसे में ट्रैक की सुरक्षा बढ़ाई गई है। इससे पहले लोन वर्राटू अभियान के चलते बड़े नक्सली लीडर बैक फुट पर हैं। हालांकि छोटे कैडर के नक्सली अब भी इलाके में सक्रिय हैं। जिनसे लगातार खतरा बना रहता है।

दंतेवाड़ा में अरनपुर-पोटाली सड़क को दर्जनों जगह से काट कर मार्ग को बाधित कर दिया है।
दंतेवाड़ा में अरनपुर-पोटाली सड़क को दर्जनों जगह से काट कर मार्ग को बाधित कर दिया है।

बीजापुर : अगवा किए गए सरेंडर नक्सली का पता नहीं
वहीं बीजापुर में नक्सलियों ने अपने ही सरेंडर करने वाले साथी को अगवा कर लिया है। उसका अभी तक पता नहीं चल सका है। बताया जा रहा है कि रामा कृष्णा ने जनवरी में सरेंडर किया था। इसके बाद बासागुड़ा क्षेत्र के कोरसागुड़ा गांव में अपने परिवार के साथ रह रहा था। नक्सलियों को इसकी जानकारी लगी और तो एक दिन पहले रामा को नक्सली उसके घर से उठा कर ले गए।

सिलगेर पर है नजर, फोर्स का मूवमेंट भी बढ़ा
बीजापुर-सुकमा बॉर्डर पर स्थित सिलगेर में पुलिस कैंप का विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है। दंतेवाड़ा में सोमवार को सरेंडर करने वाले नक्सली से पता चला है कि हार्डकोर नक्सली जयलाल और देवा छोटे कैडर के साथियों को भी भीड़ में शामिल कर रहे हैं। पुलिस का दावा है, कुछ दिन पहले आंदोलनरत ग्रामीणों के बीच से नक्सलियों ने हमला किया था। इसी में हुई फायरिंग में तीन लोग मारे गए थे। जिन्हें पुलिस ने नक्सली बताया था।

साथियों को श्रद्धांजलि देने के लिए नक्सलियों का जनपितुरी सप्ताह
नक्सली 11 जून तक जनपितुरी सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान गांव-गांव में ग्रामीणों की सभा ले कर अपने साथियों को श्रद्धांजलि देते हैं। जनपितुरी सप्ताह को लेकर पुलिस हाई अलर्ट पर है। सुकमा, बीजापुर, नारायणपुर व दन्तेवाड़ा के अंदरूनी इलाकों में गश्त बढ़ा दी गई है। बस्तर IG पी. सुंदरराज ने बताया कि सिलेगर में भी फोर्स बढ़ाई गई है। अंदरूनी इलाकों में कैंप खुलने के बाद से नक्सली बैकफुट हैं।

खबरें और भी हैं...