पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नक्सलियों में कोरोना:दन्तेवाड़ा में 5 नक्सलियों ने किया सरेंडर, कोविड टेस्ट में एक कि रिपोर्ट आई पॉजिटिव, पुलिस करवाएगी इलाज

दंतेवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर दंतेवाड़ा की है। सरेंडर करने के बाद नक्सलियों ने शपथ ली कि अब वो कभी हिंसा का रास्ता नहीं पकड़ेंगे। - Dainik Bhaskar
तस्वीर दंतेवाड़ा की है। सरेंडर करने के बाद नक्सलियों ने शपथ ली कि अब वो कभी हिंसा का रास्ता नहीं पकड़ेंगे।

छत्तीसगढ़ में कांकेर के बाद अब दंतेवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव नक्सली पुलिस के पास इलाज की आस में पहुंचा। शुक्रवार को कुआकोंडा थाना में 5 नक्सलियों ने सरेंडर किया। इनमें एक बीमार नक्सली की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। पुलिस टीम ने कोरोना पॉजिटिव नक्सली को तुरन्त कोविड अस्पताल ले जाकर भर्ती करवाया। कोरोना पॉजिटिव नक्सली का नाम हुंगा है।

कई नक्सली बीमार हैं
हुंगा ने पुलिस को बताया कि कुछ दिन पहले सुकमा जिले के मनकापाल में कैम्प खुलने के विरोध में नक्सली देवा, सोमडू ,प्रदीप के कहने पर सभी ग्रामीणों के साथ रैली निकाले और बैठक आयोजित किए थे। इसके बाद कई नक्सली बीमार होने लगे। मेरी भी तबियत खराब होने लगी। मुझे जानकारी मिली कि नक्सलियों में कोरोना फैल रहा है। मुझे डर सताने लगा। संगठन में रहते वक़्त इलाज नहीं मिल रहा। ऐसे में मैंने भी सोचा कि सरेंडर कर अपनी जान बचा लूं। इस बीच कई बार पुलिस की टीम मेरे घर पर आई थी, सरेंडर के बारे में मेरे घर वालों से संपर्क किया गया था, फिर मैंने हथियार छोड़कर पुलिस के पास आकर सरेंडर करने की बात कही।

इन नक्सलियों ने किया सरेंडर
सरेंडर नक्सलियों में बड़े बेड़मा का रहने वाला हुंगा, मिलिशिया सदस्य लिंगाराम, जोगा उर्फ पांता, सीएनएम सदस्य जोगा कुंजाम, पांडू पिता फागू ने पुलिस व सीआरपीएफ 111 बटालियन के अफसरों के सामने सरेंडर किया है। इन्हें प्रोत्साहन राशि दी गई व शपथ दिलाई गई। नक्सल संगठन में कोरोना फैला हुआ है। इसकी पुष्टि पहले ही SP डॉ अभिरेक पल्लव ने की थी। उन्होंने कहा कि बेहतर इलाज के लिए नक्सली को कोविड अस्पताल भेजा गया है। जो भी नक्सली बीमार हैं हुंगा की तरह आकर सरेंडर कर लें।हम उनका इलाज कराएंगे। जिन नक्सलियों ने सरेंडर किया है इन सभी के खिलाफ कुआकोंडा थाना में अपराध भी दर्ज हैं।

खबरें और भी हैं...