नक्सलियों ने 7 युवकों को अगवा किया!:18 जुलाई को सुकमा के गांव से पकड़ कर ले गए, पुलिस में भर्ती होने का जताया शक; बचाने गए 4 लोग भी लापता

दोरनापाल4 महीने पहले
अधिकारियों ने अभी तक युवकों को अगवा किए जाने की पुष्टि नहीं की है। हालांकि मामले का पता लगाया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने 7 युवकों का अपहरण कर लिया है। बताया जा रहा है कि इन युवकों के पुलिस में भर्ती होने का संदेह था। इन युवकों को छुड़ाने के लिए गए गांव के चार युवक भी लापता है। घटना दो दिन पुरानी बताई जा रही है। हालांकि इसकी अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। मामला जगरगुंडा क्षेत्र का बताया जा रहा है।

कुदेड़ गांव में 18 जुलाई की रात हथियारबंद नक्सली पहुंचे और स्थानीय 7 युवकों को अपने साथ बंधक बनाकर ले गए। अगवा किए गए सभी युवकों पर नक्सलियों ने पुलिस में भर्ती होने का शक जताया है। यह भी बताया जा रहा है कि युवकों को अगवा किए जाने के बाद गांव के 4 अन्य लोग उन्हें तलाश करने और बचाने के लिए गए थे, पर उनका भी अब पता नहीं है।

इससे पहले अपने ही साथी को ले गए थे अगवा कर
नक्सली इससे पहले सरेंडर कर चुके अपने ही साथी को बीजापुर से 6 जून को अगवा कर ले गए थे। किसी तरह 3 दिन बाद वह उन्हें चकमा देकर भाग निकला और 5 दिन बाद सुकमा के जगरगुंडा थाने पहुंचकर जानकारी दी थी। उसने पुलिस को बताया भी था कि अगवा करने के बाद उसे मंडीमरका गांव में रखा गया था। वहीं, उसे मौत की सजा देने की बात भी नक्सली कह रहे थे।

धमतरी में भी पुलिस मुखबिरी के संदेह में की थी हत्या
धमतरी जिले में भी नक्सलियों ने 16 जून की रात एक युवक की हत्या कर दी। नक्सली युवक को उसके घर से अगवा कर ले गए थे। इसके बाद उसका शव सड़क पर पड़ा मिला। तब भी आशंका जताई गई थी कि पुलिस मुखबिरी के शक पर नक्सलियों ने उसकी हत्या की है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस दी थी।

खबरें और भी हैं...