• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • PCC Chief Mohan Markam's Big Statement Said I Am In The Organization, My Work Is To Contest Elections, The State President Has Come Out On The Formation Of Booth Level Committee

मैं न भूपेश के साथ न TS के:PCC चीफ मोहन मरकाम का बड़ा बयान, कहा- मैं संगठन में, मेरा काम चुनाव लड़वाना; बूथ लेवल कमेटी के गठन पर निकले हैं प्रदेश अध्यक्ष

बिलासपुर/पेंड्रा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बुधवार को गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के दौरे पर पहुंचे  मोहन मरकाम ने ये बयान दिया है। - Dainik Bhaskar
बुधवार को गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के दौरे पर पहुंचे मोहन मरकाम ने ये बयान दिया है।

कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में चुनावी रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। यहां के प्रदेश अध्यक्ष गांवों के दौरे पर निकले हैं। इसके पहले चरण में मोहन मरकाम बूथ कमेटियों के गठन के लिए निकले। बुधवार को वे गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के पेड्रा ब्लॉक के कुदरी गांव पहुंचे। वहां उन्होंने बूथ कमेटी गठन की शुरुआत की। उन्होंने गांव वालों से चर्चा करते हुए ही एक कमेटी का गठन कर दिया।

मरकाम ने पिछले चुनाव में कांग्रेस की स्थिति के बारे में भी ग्रामीण कांग्रेस कार्यकर्ताओं से बात की। यहीं मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मैं संगठन की भूमिका में हूं। मैं न ही भूपेश के साथ हूं और न ही सिंहदेव के साथ। मरकाम ने कहा कि संगठन का काम है चुनाव लड़वाना और हम उसी की तैयारी में जुटे हुए हैं। मैं संगठन के मुखिया की भूमिका में हूं, संगठन सबके साथ होता है और भूपेश बघेल भी हमारे हैं और सिंहदेव और दूसरे सभी नेता हमारे साथ हैं। चुनाव आते-जाते रहेंगे चुनाव सतत प्रक्रिया है। उन्होंने बूथ स्तर पर संगठन के जोर दिए जाने के सवाल पर कहा कि हम बूथ जीतेंगे तो चुनाव जीतेंगे। चाहे फिर वह 2023 का चुनाव हो या फिर 2024 का, हम चुनावी प्रक्रिया में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि अभी हम अपना काम कर रहे हैं और सरकार अपना काम कर रही है। सरकार के कामों को हम संगठन की तरफ से जनता तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं। हम 2023 में रोडमैप बनाकर सरकार में दोबारा कैसे आएं इसको लेकर तैयारी में जुटे हुए हैं।

पकौड़ी पार्टी सीएम से मिलने आने का बहाना

उन्होंने कल मुख्यमंत्री निवास में बस्तर के लोगों की पकौड़ी पार्टी के बारे में कहा कि सीएम से हर कोई मिलना चाहता है और हो सकता है कि बस्तर के लोग भी इसीलिए मुख्यमंत्री से मिलने आए हों। राहुल गांधी के दौरे के बारे में कहा कि हमने उनको सरकार के कामों की जानकारी दे दी है और उम्मीद है कि वो सरकार के कामों को जल्दी ही देखने आएंगे। उन्होंने बिलासपुर में एफआईआर मामले में कहा कि मुझे इस बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है। बाबा और कका दोनों हमारे बड़े नेता है और उनके नेतृत्व और संयुक्त प्रयास में लगातार चुनाव जीते हैं और आने वाले समय में भी उनके नेतृत्व में चुनाव जीतेंगे।

खबरें और भी हैं...