पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आधी रात जन्मे प्रभु यीशु:प्रार्थना में बारी-बारी शामिल हुए लोग, दूर से ही कहा- मैरी क्रिसमस

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रात 12 बजे 40 छोटे-बड़े चर्चों में काटा गया केक

प्रभु यीशु के जन्मोत्सव की पूर्व संध्या यानी गुरुवार को समूचा मसीही समाज क्रिसमस की खुशियों से सराबोर रहा। प्रभु यीशु के धरती पर अवतरण दिवस की खुशियां सभी के चेहरों पर झलक रहीं थीं। इस मौके पर शहर के सभी 40 छोटे-बड़े चर्चों में कैरोल सॉन्ग और प्रार्थना हुई। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर लोग बारी-बारी इसमें शामिल हुए। हाथ मिलाने या गले लगाने से परहेज करते हुए सबने एक-दूसरे को दूर से ही मैरी क्रिसमस कहकर पर्व की शुभकामनाएं दी। ख्रीस्त जन्मोत्सव के मौके पर रोशनी से झिलमिल रहे चर्चों में रात 12 बजे मोमबत्तियां जलाकर केक काटा गया और प्रार्थना की गई। बड़े दिन के लिए राजधानी के सभी चर्चों को खासतौर पर सजाया गया है। रंगीन लाइटिंग की गई है। वहीं जन्मोत्सव से जुड़े कार्यक्रम 10 दिसंबर से शुरू हो चुके हैं। गिरजाघरों में प्रभु के जन्म की झांकी सजाई गई है। हालांकि, गिरिजाघरों में इस बार यीशु के जन्म पर नाटक का मंचन नहीं हुआ। इधर, बैरनबाजार चर्च में आधी रात यीशु की आराधना कर दुनिया को कोरोना से मुक्ति दिलाने की कामना की गई। इसी तरह टाटीबंध स्थित चर्च में भी देर रात तक मसीही समाज के लोग आराधना करते रहे। अमलीडीह के संत टेरेसा कैथोलिक चर्च में भी विशेष पूजा-अर्चना कर ख्रीस्त जन्मोत्सव मनाया गया। शुक्रवार को भी सुबह से गिरजाघरों में विशेष आराधना के साथ दूसरे धार्मिक अनुष्ठान शुरू हो जाएंगे।

बघेल, उइके ने दी बधाई
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राज्यपाल अनुसुइया उइके और स्पीकर चरणदास महंत ने प्रदेशवासियों विशेष रूप से मसीही समाज को क्रिसमस की बधाई दी है। सीएम बघेल शुक्रवार सुबह 11.30 बजे बैरन बाजार चर्च जाएंगे और ख्रीस्त जन्मोत्सव पर होने वाले विविध धार्मिक अनुष्ठानों में हिस्सा लेंगे।

चरणी सजी, गूंजे कैरोल गीत
गिरजाघरों में इस मौके पर जीजस की चरणी सजाई गई। युवाओं की टोली ने कैरोल गीत भी गाए। रात 12 बजे मेरा यीशु जन्मा, प्यारा यीशु जन्मा... जैसे गीतों के साथ समाज ने यीशु जन्मोत्सव का जश्न मनाया।

नए साल तक होंगे कार्यक्रम
26 दिसंबर से 1 जनवरी यानी नए साल तक चर्चों में विविध कार्यक्रम होंगे। अजय मार्टिन और आशीष अनुराग सालोमन ने बताया कि 25 दिसंबर की सुबह 8 बजे कैथेड्रल भवन में ख्रीस्त जन्मोत्सव की आराधना होगी। 27 दिसंबर को रविवारीय प्रार्थना की जाएगी। 27 से 30 दिसंबर तक चर्च प्रांगण में कलीसियाई खेलकूद प्रतियोगिताएं भी रखी गई हैं। 31 दिसंबर शाम 7 बजे पारिताेषिक वितरण किया जाएगा। पवित्र ब्यारी की आराधना भी की जाएगी। 1 जनवरी को नूतन वर्ष की आराधना रखी गई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें