पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक ही सवाल... कब टूटेगी काेराेना की चेन:लापरवाही पर निजी अस्पताल सील व हॉस्टल अधीक्षक निलंबित; 1223 नए केस, 17 की मौत

काेरबा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड मरीज की सीटी स्कैन की तैयारी। - Dainik Bhaskar
कोविड मरीज की सीटी स्कैन की तैयारी।
  • लगातार बढ़ रहे मरीजों से लोगों के साथ प्रशासन की भी बढ़ी चिंता, लापरवाह जिम्मेदारों के साथ बेपरवाह लोगों के खिलाफ प्रशासन सख्त कार्रवाई करने मजबूर
  • लॉकडाउन के 22वें दिन फिर संक्रमितों की संख्या 1200 के पार, बढ़ रहा खतरा

जिले में लाॅकडाउन के दाैरान लग रहा था कि लाेगाें के घर में रहने और सड़काें पर सिर्फ जरूरी सेवा के लिए ही आवाजाही हाेने से काेराेना संक्रमण की चेन टूटेगी। लगातार संक्रमण बढ़ने के बीच रविवार काे संक्रमिताें की संख्या घटकर 900 पहुंचने से राहत मिलने की उम्मीद नजर आई, लेकिन लाॅकडाउन के 22वें दिन फिर संक्रमिताें की संख्या 1223 पहुंच गई।

इससे प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। क्याेंकि लॉकडाउन में काेराेना संक्रमण थमने की बजाय बढ़ता जा रहा है। शहर के बाद ग्रामीण क्षेत्र में तेजी से काेराेना फैल रहा है। दूसरी ओर काेराेना से माैत का ग्राफ भी दहाई के अंक से नीचे नहीं आ रहा है। पिछले 24 घंटे के भीतर 17 काेविड मरीजाें की माैत हुई है। इनमें 12 पुरुष व 5 महिला हैं। इनमें 5 मरीज की माैत स्याहीमुड़ी सिपेट काेविड अस्पताल में हुई है। ईएसआईसी व बालाजी काेविड अस्पताल में 2-2, कृष्णा हाॅस्पिटल, सृष्टि अस्पताल, जिला अस्पताल व विनायक अस्पताल में 1-1 मरीज ने दम ताेड़ा है। बिलासपुर के किम्स और रायपुर के संजीवनी हा‌ॅस्पिटल में भी जिले के 1-1 मरीजाें की माैत हुई है।

तीसरी बार संक्रमिताें की संख्या 1200 से पार
जिले में एक पखवाड़े पहले तक रोजाना मिलने वाले काेराेना संक्रमिताें की संख्या 1 हजार पार कर रही थी। हालांकि उसके बाद उतार-चढ़ाव चलता रहा। 26 अप्रैल से 29 अप्रैल के बीच हजार से 1100 के आसपास संक्रमित मिलते रहे, लेकिन 30 अप्रैल काे संक्रमिताें की संख्या 1200 पार कर 1236 पहुंच गई। अगले दिन 1 मई काे 1228 मरीज मिले। वहीं तीसरी बार 3 मई काे 1223 मरीज मिले हैं। इस तरह 5 दिनाें के भीतर ही तीसरी बार संक्रमित 1200 से पार मिले हैं।

पाली ब्लाॅक में लापरवाही पर हाॅस्टल अधीक्षक निलंबित
एक सप्ताह के भीतर दूसरी बार साेमवार काे कलेक्टर किरण काैशल पाली ब्लाॅक पहुंची। उन्हाेंने पाली सीएचसी पहुंचकर काेराेना जांच, आइसाेलेशन में रह रहे लाेगाें के इलाज व अन्य सुविधाओं काे देखा। उन्हें होम आइसोलेशन माॅनिटरिंग में लापरवाही बरतने का पता चला। कलेक्टर ने माॅनिटरिंग सेल का जिम्मा देख रहे हाॅस्टल अधीक्षक बृजेश कुमार साहू काे बुलाया। उनसे हाेम आइसाेलेशन वाले कोविड मरीजों के संपर्क और उनके स्वास्थ्य की माॅनिटरिंग के बारे में पूछा, जिसकी जानकारी नहीं दे सके, ताे हाॅस्टल अधीक्षक काे निलंबित कर दिया। कलेक्टर ने हाेम आइसाेलेशन में रहकर इलाज करा रहे मरीजों गंभीरता से निगरानी करने और तबियत बिगड़ने पर तत्काल अस्पताल भर्ती कराने काे कहा।

काेविड मरीजाें का सामान्य इलाज निजी अस्पताल की अनुमति निरस्त
ऑक्सीजन बेड की कमी से निपटने 4 निजी अस्पतालाें काे तय मापदंडाें के आधार पर इलाज की अनुमति दी है। इनमें पाली के निजी अस्पताल काे भी अनुमति थी। यहां काेविड मरीजाें काे सामान्य बीमारी के मरीज की तरह भर्ती कर इलाज किया जा रहा था। काेराेना संक्रमण राेकने के लिए सुरक्षात्मक उपाय भी नहीं किए थे। साेमवार काे कलेक्टर किरण काैशल पाली ब्लाॅक के दाैरे पर पहुंची थी। इस दाैरान उन्हाेंने निजी काेविड अस्पताल का निरीक्षण किया, जहां डाॅक्टर और नर्सिंग स्टाफ बिना सुरक्षात्मक संसाधन के काेविड मरीजाें का इलाज करते मिले।

पाॅजिटिव मरीजाें समेत स्वस्थ हुए मरीज और अस्पताल स्टाफ के लिए अलग-अलग प्रवेश-निकास की व्यवस्था भी नहीं थी। अस्पताल के बाहर काेविड मरीजाें के इलाज के संबंध में न ताे सूचना लगी था और न ही बेरिकेंटिंग की थी। ऐसे में काेराेना संक्रमण फैलने की संभावना काे देखते हुए उन्हाेंने वहां भर्ती 2 काेविड मरीजाें काे पाली आइसाेलेशन सेंटर शिफ्ट कराया। साथ ही सीएमएचओ डाॅ. बीबी बाेडे काे अस्पताल काे मिली काेविड मरीजाें के इलाज की अनुमति निरस्त कर 15 दिन के लिए सील करने का निर्देश दिया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें