पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जशपुर:शिव लिंग तोड़े जाने की घटना ने पकड़ा सियासी तूल, भाजपा ने की दोषियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग

जशपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर जशपुर के जोकारी गांव की है। इसी पहाड़ी पर मंदिर है। फॉरेंसिंक एक्सपर्ट की टीम ने घटना स्थल की जांच की है। पुलिस का दावा है कि अपराधी जल्द ही गिरफ्त में होंगे। - Dainik Bhaskar
तस्वीर जशपुर के जोकारी गांव की है। इसी पहाड़ी पर मंदिर है। फॉरेंसिंक एक्सपर्ट की टीम ने घटना स्थल की जांच की है। पुलिस का दावा है कि अपराधी जल्द ही गिरफ्त में होंगे।
  • 8 जुलाई को कुनकुरी थाने के जोकारी गांव में हुुई थी घटना
  • एफआइआर भी दर्ज की गई, जांच में जुटी पुलिस की टीम

जिले के कुनकुरी थाना इलाके के जोकारी गांव की घटना ने अब प्रदेश का सियासी माहौल गर्म कर दिया है। 8 जुलाई को इस गांव के एक पहाड़ पर स्थित मंदिर के शिवलिंग को नुकसान पहुंचाया गया था। इस पर अब प्रदेश भाजपा ने कहा है कि इस घटना के दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। पार्टी के प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा कि यह विचलित करने वाली घटना है। किसी साजिश के तहत यह किया गया है। प्रदेश के धर्मस्थल का संरक्षण करने में कांग्रेस की सरकार नाकामयाब रही है। दोबारा ऐसी घटना ना हो इस बारे में सरकार को लोगों से बात करनी चाहिए। 

भाजपा की तरफ से किया गया ट्वीट 

यह है पूरा मामला 
गांव के मधेश्वर पहड़ा पर शिवमंदिर है। किसी ने यहां तोड़-फोड़ की। सरपंच सहित अन्य ग्रामीणों ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ थाने में शिकायत की। बीते बुधवार को क्षेत्र के कुछ लोग जब पूजा करने के लिए मधेश्वर पहाड़ पर गए तब इस घटना की जानकारी मिली। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है। हालांकि अब तक पुलिस के हाथ खाली हैं। शुक्रवार को अंबिकापुर से एफएसएल की टीम मयाली पंहुची थी। मयाली पंहुची टीम ने ग्रामीणों की उपस्थिति में शिव मंदिर का मुआयना किया। काफी देर तक टीम आरोपियों से जुड़े सुराग तलाशने में जुटी रही। पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

और पढ़ें