पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर की घटना:बालिका गृह से नाबालिग लापता, प्रेमी के साथ भागने की आशंका, पुलिस घरवालों से पूछताछ कर रही

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बच्ची की सर्चिंग जारी है। बलौदाबाजार पुलिस से भी रायपुर पुलिस संपर्क कर रही है। सिंबॉलिक फोटो।
  • खम्हारडीह स्थित बालिका गृह से जुड़ा है मामला, बच्ची पहले भी प्रेमी के साथ पकड़ी जा चुकी है
  • बलौदा बाजार जिले में रहता है बच्ची का परिवार, रायपुर पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज किया

शंकर नगर के खम्हारडीह इलाके से एक बच्ची के अपहरण का केस दर्ज किया गया है। लड़की की उम्र 17 साल है। बच्ची सरकारी सेंटर बालिका गृह से गायब हुई है। इसकी अधीक्षिका रत्ना दुबे ने मामले में एफआईआर दर्ज करवाई है। खम्हारडीह पुलिस सेंटर के आसपास के इलाके के सीसीटीवी को चेक किया जा रहा है। बच्ची का परिवार बलौदाबाजार जिले में रहता है। उससे भी पूछताछ की जा रही है।

प्यार का चक्कर, रह चुकी है लिव इन रिलेशन में
अंदाजा लगाया जा रहा है कि नाबालिग प्रेमी के साथ भागी होगी। करीब सालभर पहले वो रायपुर में कुछ दिन अपने प्रेमी के साथ रह चुकी है। परिजन को शिकायत पर पुलिस ने उसे ढूंढ निकाला तब बच्ची के परिजन ने उसे साथ रखने से इंकार कर दिया। बच्ची के पिता ने उसे बालिका गृह में रहने देने की गुजारिश की, बाद में उसे ले जाने का वादा भी किया। बालिग होने तक बच्ची को जून महीने में बालिका गृह में रखा गया था। बच्चों के साथ खेलते वक्त प्रेयर से ठीक पहले वह मौका देखकर निकल गई। लापता होने पर सेंटर की रत्ना दुबे ने पुलिस को सूचना दी।

पापा बात नहीं करते थे
सेंटर के सूत्रों के मुताबिक बच्ची के परिजनों ने उसे काफी नजर अंदाज किया। बच्ची की काउंसिलिंग की जा रही थी। उसे मनोरंजक एक्टिविटीज में उलझाकर रखा गया था। मगर पिता के बात ना करने से वो परेशान रहती थी। किशोरी की बात उसके भाई से होती थी मगर पिता ने कभी उससे बात नहीं की। बच्ची घर जाने की इच्छा जता चुकी थी। बलौदाबाजार प्रशासन को इस संबंध में जानकारी दी गई। मगर इस बीच अब बच्ची खुद ही भाग निकली।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें