पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • The Governor Said In The Address The Achievements Of The State Government, Said The Government Fulfilled The Promise To The Farmers, Payment Of 1200 Crores In The Third Installment Soon

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बजट सत्र शुरू:राज्यपाल ने अभिभाषण में बताई राज्य सरकार की उपलब्धियां, कहा-सरकार ने किसानों से वादा निभाया, तीसरी किस्त में 1200 करोड़ का भुगतान जल्द ही

रायपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बजट सत्र के पहले दिन मुख्यमंत्री के साथ विधानसभा जातीं राज्यपाल। - Dainik Bhaskar
बजट सत्र के पहले दिन मुख्यमंत्री के साथ विधानसभा जातीं राज्यपाल।

राज्यपाल अनुसुइया उइके के अभिभाषण के साथ ही छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र सोमवार से शुरू हो गया। लगभग 40 मिनट के भाषण में राज्यपाल ने राज्य सरकार की उपलब्धियों का बखान किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इस साल नया कीर्तिमान रचते हुए 95 फीसदी से ज्यादा किसानों का धान खरीदा। वहीं 67 लाख हितग्राहियों को राशन का वितरण भी किया। राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद चर्चा 25 औैर 26 को होगी। राज्यपाल ने कहा कि सरकार सभी मोर्चों पर खरी उतरी, कोरोना काल में भी अनेक क्षेत्रों में अनेक नई उपलब्धियां हासिल कीं। राज्य सरकार अपने गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की कल्पना को साकार करने में लगी हुई है। किसानों से किया वादा पूरा किया गया।

राज्य में 4755 करोड़ रुपए का कृषि ऋण माफ किया गया। लगभग 16 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया गया। अलग-अलग फसलों के वेल्यू एडीशन के लिए प्रत्येक विकासखंड में फूडपार्क और वनोपज प्रसंस्करण केन्द्र किया जा रहा है। किसान न्याय योजना के तहत धान,मक्का,गन्ना सहित 14 फसलें लेने वाले किसानों की सीधा आर्थिक मदद देने का बीड़ा उठाया गया है। धान के अंतर की राशि तीन किस्तों में 45 सौ करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है चौथी किस्त की राशि 12 सौ करोड़ का भुगतान भी जल्द ही किया जाएगा।

राज्यपाल ने कहा कि मेरी सरकार ने कोरोना काल में मजदूरों के खाने-पीने का इंतजाम किया, साथ ही प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाया है। दूसरे प्रदेशों में फंसे मजदूरों की सुरक्षित वापसी कराई गई। जरूरतमंदों के लिए 11 हजार ग्राम पंचायतों में 2 क्विंटल चावल उपलब्ध कराया गया।

सरकार ने महिलाओं का मान बढ़ाया है, वहीं बच्चों के पोषण की चिंता की है। 24 लाख बच्चों के लिए पोषण सामग्री दी गई। 29 लाख बच्चों को रेडी-टू-ईट भोजन घर पहुंचा कर दिया गया। एक वर्ष में 99 हजार बच्चों को कुपोषण और 20 हजार महिलाओं को एनीमिया से मुक्ति मिली है।

सीएम बोले- केंद्र अड़ंगेबाजी करता रहा तो अगले साल खरीदी कैसे होगी
सीएम भूपेश बघेल 60 लाख टन धान खरीदी के मुद्दे पर 26 फरवरी को फिर से केंद्रीय खाद्य मंत्री पीयूष गोयल से भेंट करेंगे। इससे पहले उन्होंने केंद्र सरकार पर अड़ंगेबाजी करने का आराेप लगाते हुए कहा कि ऐसे में अगले साल धान खरीदी कैसे हो पाएगी। सीएम भूपेश ने कहा कि पहले तो केंद्र ने हमें पर्याप्त बारदाने नहीं दिए, फिर पुराने बारदाने में धान खरीदी की अनुमति दे दी औैर अब फिर से नए बारदाने में चावल जमा करने की बात कह रहे हैं।

सीएम भूपेश ने यह भी कहा कि केंद्र ने पहले 60 लाख टन चावल लेने की अनुमति दी थी लेकिन बाद में सिर्फ 24 लाख टन पर ही आकर रूक गई। हम बार-बार केन्द्र से 60 लाख टन धान लेने का आग्रह कर रहे हैं इसके लिए पत्र भी लिख चुके हैं औैर केन्द्रीय खाद्य मंत्री से मुलाकात भी कर चुके हैं। सीएम ने कहा कि दरअसल केन्द्र सरकार औैर पीयूष गोयल राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत किसानों को दी जा अंतर की राशि को बोनस मान रहे हैं जबकि इस संबंध में उन्हें बताया जा चुका है कि यह किसान सम्मान निधि की तरह ही राज्य की योजना है।

अभिभाषण की खास बातें

  • 67 लाख से अधिक राशन कार्डधारी परिवारों का खाद्यान्न
  • सुपोषण अभियान की लौ कोरोना काल में भी जलती रही
  • लघु वनोपज खरीदने में देश में प्रथम स्थान पर
  • कैम्पा मद के उपयोग की राष्ट्रीय स्तर पर सराहना
  • पंचायत की योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन पर 11 राष्ट्रीय पुरस्कार
  • एक जिला, दो अनुविभाग एवं 24 नए तहसीलों का गठन
  • उच्च शिक्षा की सुविधाएं बढ़ाने विभिन्न प्रयास
  • सभी जिलों में ‘डेडिकेटेड कोविड अस्पताल’
  • सीएम कौशल विकास योजना’ के तहत आधुनिक तकनीक पर प्रशिक्षण
  • गोधन न्याय योजना से डेढ़ लाख को आय
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें