पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना विश्लेषण:मौसम और कोरोना का संबंध अब तक साबित नहीं फिर भी सर्दियों में आए ज्यादा केस

रायपुर4 दिन पहलेलेखक: अमिताभ अरुण दुबे
  • कॉपी लिंक

आसपास के राज्यों में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन को लेकर बढ़ रहे केस, प्रदेश में भी इसको लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। इसके साथ ही आम लोगों के मन में कोरोना वायरस के बदलते स्वरूप और मौसम के साथ इसके बदलाव को लेकर सवाल अक्सर उठते हैं। अभी तक कोरोना वायरस और मौसम के बीच कोई स्टडी या संबंध स्थापित नहीं हो पाया है।

मार्च में कोरोना के पहला केस मिलने के बाद से अब तक तीनों तरह के मौसम यानी गर्मी, बारिश और सर्दी बीत चुके हैं। पाठकों के मन में उठने वाले इस सवाल को लेकर भास्कर ने पहली बार कोरोना कोर कमेटी के सदस्य डॉ. आरके पंडा और मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा की कलम से तीनों मौसम में छत्तीसगढ़ में अब तक कोरोना की क्या स्थिति रही है, उसकी पड़ताल इस रिपोर्ट में...

मार्च और अप्रैल के महीने में कम थे केस, मई और जून में बढ़े, सावधानी अभी भी जरूरी
कोरोना वायरस के बिहेवियर को लेकर या इसके मौसम के सापेक्ष बदलते स्वरूप को लेकर अभी तक कोई स्टडी नहीं हुई है। स्पष्ट है कि कोरोना वायरस के बर्ताव और मौसम का कोई लेना देना नहीं है। फिर भी हमें गर्मी के आंकड़ों को भी ज्यादा गहराई देखना होगा। मार्च और अप्रैल के माह में गर्मियों की शुरूआत में हमारे केस काफी कम थे। मई-जून में अनलॉक होते ही केस बढ़े। प्रदेश में आए 3.11 लाख से ज्यादा केस का बड़ा पार्ट बारिश खत्म होने और सर्दी शुरू होने के बीच आया। फिलहाल हमारे यहां केस कम हैं। लेकिन अब फिर से बढ़ रहे हैं। मेरा मानना है कि अभी और ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए।
-डॉ. आरके पंडा, सदस्य, कोरोना कोर कमेटी

प्रदेश में मौसम का मिजाज

  • मार्च-अप्रैल - न्यूनतम तापमान 18 से 20, अधिकतम 35 से 37 डिग्री, नमी 40 से 60% के बीच
  • मई-जून - न्यूनतम तापमान 25 से 27, अधिकतम 38 से 40 डिग्री, नमी 25 से 35% के बीच
  • जुलाई अगस्त - न्यूनतम तापमान 22 से अधिक 32 -34 डिग्री तक, नमी 50 से 80-90% के बीच
  • सितंबर-अक्टूबर - न्यूनतम तापमान 22 से 24, नमी न्यूनतम 50-60, अधिकतम 70-85% के बीच
  • दिसंबर-फरवरी - न्यूनतम तापमान 14 से 18 डिग्री, नमी 28 से 30 प्रतिशत के बीच
कोरोना संक्रमण के मामले
माहकेस
मार्च-अप्रैल40
मई-जून2818
जुलाई-सितंबर1.10 लाख
अक्टूबर-नवंबर1.97 लाख
दिसंबर-फरवरी73887

वायरस को पनपने के लिए मौसम में यह दो कारक जरूरी... तापमान कम और नमी भी
अभी कोरोना वायरस और मौसम के संबंध को लेकर व्यापक स्टडी की दरकार है। आमतौर पर माना जाता है कि वायरस को पनपने में दो फैक्टर होते हैं, एक तापमान व दूसरा नमी। अगर तापमान 27 डिग्री तक और नमी 70-100% के बीच हो, तो वायरस आसानी से पनपते हैं। सितंबर अक्टूबर के बीच कोरोना के मामले ज्यादा देखने में आए हैं। उस दौरान तापमान न्यूनतम 22 से अधिकतम 32 डिग्री के बीच और नमी न्यूनतम 50 से 60% और अधिकतम 70 से 80% रही थी। दिसंबर, जनवरी, फरवरी में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री से 18 अधिकतम 28 से 30 डिग्री के बीच रहता आया है, जबकि नमी न्यूनतम 30 से अधिकतम 70% के आसपास रहती है।
-एचपी चंद्रा, मौसम वैज्ञानिक

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें