• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Kondagaon Road Accident; Three Friend Killed As Tata Sumo And Car Road Accident Today In Chhattisgarh Kondagaon

कोंडागांव में हादसा:केशकाल में सरकारी वाहन सूमो और कार में हुई आमने-सामने टक्कर, 3 दोस्तों की मौत

कोंडागांव2 वर्ष पहले
कोंडागांव में बुधवार देर रात सड़क हादसे में तीन दोस्तों की मौत हो गई, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें फरसगांव के अस्पताल में भर्ती कराया गया।
  • फरसगांव क्षेत्र में देर रात हुई दोनों वाहनों की भिड़ंत, सूमो सवार दो लोग गंभीर रूप से घायल
  • कार सवार दोस्त नारायणपुर से लौट रहे थे, जबकि वन विभाग का वाहन रायपुर से आ रहा था

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव में बुधवार देर रात हुए सड़क हादसे में तीन दोस्तों की मौत हो गई, जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को फरसगांव के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा फरसगांव क्षेत्र में वन विभाग के सरकारी वाहन सूमो और कार सवारों की आमने-सामने हुई टक्कर के चलते हुआ है।

वन विभाग की सूमो रायपुर से कोंडागांव जा रही थी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में कार चालक रज्जु पांडेय की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस घायलों को फरसगांव स्वास्थ्य केंद्र ले गई।
वन विभाग की सूमो रायपुर से कोंडागांव जा रही थी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में कार चालक रज्जु पांडेय की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस घायलों को फरसगांव स्वास्थ्य केंद्र ले गई।

जानकारी के मुताबिक, केशकाल निवासी रज्जू पांडेय (45), संतोष पाटिल (38) और अनिल सिन्हा (40) तीनों दोस्त थे। अनिल केशकाल नगर पंचायत पार्षद भूपेश सिन्हा के बड़े भाई हैं। तीनों किसी नारायणपुर से अपनी कार में केशकाल लौट रहे थे। रात करीब 10 बजे ग्राम मससुकोकोडा के पास सामने से आ रही वन विभाग की सूमो से टक्कर हो गई।

वन विभाग की सूमो रायपुर से कोंडागांव जा रही थी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में कार चालक रज्जु पांडेय की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस घायलों को फरसगांव स्वास्थ्य केंद्र ले गई। वहां से अनिल सिन्हा व संतोष पाटिल को रायपुर रेफर किया गया, लेकिन दोनों ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों वाहन एक-दूसरे में बुरी तरह से फं गए। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद दोनों को बाहर निकाला जा सका। इस दौरान चालक रज्जु पांडेय का शव जेसीबी की मदद से कार से बाहर निकालना पड़ा।
टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों वाहन एक-दूसरे में बुरी तरह से फं गए। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद दोनों को बाहर निकाला जा सका। इस दौरान चालक रज्जु पांडेय का शव जेसीबी की मदद से कार से बाहर निकालना पड़ा।

टक्कर के बाद एक-दूसरे में फंसे वाहन, 3 घंटे बाद निकाले जा सके
सूमो सवार वन विभाग के दोनों कर्मचारियों को फरसगांव अस्पताल में भर्ती कराया गया है। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों वाहन एक-दूसरे में बुरी तरह से फं गए। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद दोनों को बाहर निकाला जा सका। इस दौरान चालक रज्जु पांडेय का शव जेसीबी की मदद से कार से बाहर निकालना पड़ा।

खबरें और भी हैं...