पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सैप्टिक टैंक में दो राज मिस्त्रियों की मौत:निर्माणाधीन मकान में टैंक ठीक करने के लिए ढक्कन खोलते ही अंदर गिरे दोनों, ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर बचाने घुसा मकान मालिक

कोंडागांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मकान मालिक श्रीराम ऑक्सीजन लगाकर नीचे उतरे और दोनों को बाहर निकाला जा सका। इसके बाद अस्पताल लेकर पहुंचे, पर दोनों को बचाया नहीं जा सका।  - Dainik Bhaskar
मकान मालिक श्रीराम ऑक्सीजन लगाकर नीचे उतरे और दोनों को बाहर निकाला जा सका। इसके बाद अस्पताल लेकर पहुंचे, पर दोनों को बचाया नहीं जा सका। 

छत्तीसगढ़ के कोंडगांव में गुरुवार देर शाम सैप्टिक टैंक के अंदर दो राज मिस्त्रियों की मौत हो गई। दोनों निर्माणाधीन मकान में टैंक को ठीक करने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान टैंक में गिर पड़े। मकान मालिक ने देखा तो ऑक्सीजन सिलेंडर लगाकर दोनों को बचाने का भी प्रयास किया। इसके बाद 108 एंबुलेंस की सहायता से उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मामला माकड़ी थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, दिहारीपारा में श्रीराम कश्यप के मकान में काम चल रहा है। इसी में दो राज मिस्त्री स्थानीय निवासी बीरू यादव और सोमन मरकाम सैप्टिक टैंक का ढक्कर खोलने के लिए उसके ऊपर चढ़े। ही ढक्कन खोलने के बाद जैसे ही सीढ़ी लगाकर नीचे उतरने का प्रयास किया, दोनों अंदर जा गिरे और बेहोश हो गए। मकान मालिक श्रीराम कश्यप कुछ बात करने के लिए दोनों राज मिस्त्रियों के पास आया तो देखा कि टैंक में बेहोश पड़े हैं।

दोनों को निकालने के लिए एक मजदूर उतरा तो उसे भी चक्कर आया
दोनों को टैंक के अंदर पड़ा देख श्रीराम ने शोर मचाया तो अन्य लोग पहुंच गए। इस दौरान एक मजदूर ने सीढ़ी से नीचे उतरने का प्रयास किया तो उसे चक्कर आने लगा और घुटन होने लगी। इस पर टंकी के दूसरे किनारे पर छेद किया गया और 108 एंबुलेंस को सूचना दी गई। उसके पहुंचने पर मकान मालिक श्रीराम ऑक्सीजन लगाकर नीचे उतरे और दोनों को बाहर निकाला जा सका। इसके बाद अस्पताल लेकर पहुंचे, पर दोनों को बचाया नहीं जा सका।

खबरें और भी हैं...