• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Fire In Covid 19 Center In Kanker | Two Workers Injured In Stampede Due To Fire At Covid 19 Center In Chhattisgarh Kanker

कोविड सेंटर में आग से मची भगदड़:​​​​​​​कांकेर में एल्यूमीनियम का तार लेकर उड़ा कौआ, HT लाइन से टकराया तो हुआ शार्ट सर्किट, कोरोना मरीजों ने बुझाई आग, 2 घायल

​​​​​​​कांकेरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के कांकेर स्थित कोविड सेंटर में मंगलवार को अचानक आग लग गई। बिजली उपकरणों और स्विच बोर्ड में शार्टसर्किट हो रहा था। यह देखकर भर्ती मरीज और स्टाफ भागने लगे। इस दौरान कुछ मरीजों ने हिम्मत दिखाई और किसी तरह आग पर काबू पाया। इस भगदड़ में कोविड केयर सेंटर के दो कर्मचारी घायल हो गए हैं। सेंटर में हुए शार्टसर्किट के चलते लाइट भी चली गई। बाद में पता चला कि पूरा हादसा एक कौए की चक्कर में हुआ था।

दरअसल, अंतागढ़ के लाइवलीहुड कॉलेज में कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। सेंटर में लगे स्विच बोर्ड और पंखे, लाइट में मंगलवार को अचानक आग निकलनी शुरू हो गई। देखते ही देखते वहां सभी उपकरणों ने काम करना बंद कर दिया। बिजली सप्लाई बंद हो गई। इसके कारण भगदड़ मच गई। मरीज और कर्मचारी कमरों से बाहर निकल मैदान में पहुंच गए। इस दौरान कुछ मरीजों ने हिम्मत जुटाई और वहां पड़े अग्निशामक यंत्र से आग पर काबू पाया।

हादसे के बाद जांच की गई तो कौआ HT लाइन के तार के नीचे पड़ा हुआ था। उसकी चोंच और शरीर का कुछ हिस्सा भी जला था। पास ही दो टुकड़ों में तार भी मिला।
हादसे के बाद जांच की गई तो कौआ HT लाइन के तार के नीचे पड़ा हुआ था। उसकी चोंच और शरीर का कुछ हिस्सा भी जला था। पास ही दो टुकड़ों में तार भी मिला।

जले हुए कौए का शव और तार मिला तो घटना का पता चला
हादसे के बाद जांच की गई तो कौआ HT लाइन के तार के नीचे पड़ा हुआ था। उसकी चोंच और शरीर का कुछ हिस्सा भी जला था। पास ही दो टुकड़ों में तार भी मिला। इससे विद्युत विभाग ने शार्ट सर्किट होने की संभावना जताई। कौआ अपनी चोंट में एक एल्यूमीनियम तार लेकर उड़ रहा था। यह तार 11 KV लाइन के दो तार में टच हो गया होगा। इसकी वजह से शार्ट सर्किट हुआ और वोल्टेज बढ़ने से स्विच बोर्ड और बिजली उपकरणों में आग लग गई।

भगदड़ में रसोइयों को आई चोट, एक का हाथ फ्रैक्चर
भगदड़ में रसोइया कुमारी साहू गिर गई। जिससे उसका हाथ फ्रैक्चर हो गया। दूसरी रसोइया रेखा साहू को हल्की चोट आई है। दोनों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। आग से पंखे और सभी स्विच बोर्ड व लाइट खराब हो गए। साथ ही चार्जिंग में लगे मरीजों के 3 मोबाइल और 25 से अधिक चार्जर भी जल गए। पूरा प्रशासन वहां विद्युत सप्लाई बहाल करने जुटा रहा, पर रात 8 बजे तक लाइट नहीं आ सकी थी।

मरीजों ने घर जाने की धमकी दी, फिर भी देर रात आई बिजली
बिजली गुल होने के बाद गर्मी से मरीज परेशान हो उठे। यहां भर्ती 43 मरीजों ने प्रशासनिक अफसरों से कहा 4 घंटे में लाइट नहीं आई तो वे अपने घर चले जाएंगे। जब शाम 5 बजे तक लाइट नहीं आई तो प्रशासन ने मरीजों को भानुप्रतापपुर और दुर्गूकोंदल शिफ्ट करने का फैसला लिया। इसके लिए वाहन व पुलिस फोर्स भी बुला ली गई लेकिन मरीजों ने जाने से इनकार कर दिया। इसके बाद रात 8 बजे तक लाइट ठीक करने की बात पर मरीज रुके थे। इसके बाद देर रात को बिजली आई तब जाकर मरीजों ने राहत की सांस ली।

3 करोड़ के भवन में 27 लाख बिजली पर खर्च, विधायक बोले- जांच होगी
अंतागढ़ के लाइवलीहुड कालेज में बनाए गए कोविड केयर सेंटर में 11 KV लाइन से ट्रांसफार्मर लगाकर बिजली सप्लाई दी गई है। इसमें पोल के नीचे तीन डीओ लगाए गए हैं। इसके अलावा सुरक्षा के लिए अस्पताल में MCB स्विच भी लगाया गया है। फिर भी ये सारे सुरक्षा संसाधन काम नहीं आए। बताया जा रहा है 3 करोड़ के बने इस भवन में 27 लाख रुपए बिजली के नाम से खर्च किया गया है। विधायक ने घटिया उपकरण लगाने की बात कह कर जांच कराने को कहा है।

खबरें और भी हैं...