• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Wife Of Martyr Of Bastar Donated For Corona Relief Donation In Chhattisgarh Chief Minister Relief Fund Shaheed Upendra Sahu's Wife Bastar Martyr Chhattisgarh Naxal

जज्बा:बस्तर के शहीद की पत्नी ने कोरोना राहत के लिए दिया दान, एक महीने पहले खोया था पति को, मुख्यमंत्री बोले- मैं नि:शब्दू हूं,

जगदलपुर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहीद उपेंद्र की पत्नी के इस कदम की चर्चा अब पूरे देश में हो रही है। वर्तमान में उपेंद्र के भाई भी पुलिस बल में नक्सल इलाके में ही पदस्थ हैं। - Dainik Bhaskar
शहीद उपेंद्र की पत्नी के इस कदम की चर्चा अब पूरे देश में हो रही है। वर्तमान में उपेंद्र के भाई भी पुलिस बल में नक्सल इलाके में ही पदस्थ हैं।
  • बस्तर के ही रहने वाले थे शहीद उपेंद्र साहू, दंतेवाड़ा की सीमा पर मुठभेड़ में लगी थी गोली
  • पत्नी के साहस को देख मुख्यमंत्री ने किया जज्बे को सलाम, एसपी के पास जमा करवाई राशि

बस्तर के शहीद जवान उपेन्द्र साहू की पत्नी कोरोना राहत के लिए दान दिया। करीब एक महीने पहले ही उनके पति नक्सलियों की गोली का शिकार हुए थे। राधिका साहू ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में 10 हजार रूपए की सहयोग राशि जमा की है। शहीद की पत्नी राधिका ने खुद बस्तर पुलिस अधीक्षक के पास जाकर यह राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष के नाम से जमा की, और कहा कि अगर आज मेरे पति होते तो वो भी यही करते। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शहीद जवान की पत्नी के इस जज्बे की सराहना करते हुए कहा कि इस सहयोग के लिए मैं निःशब्द हूं और उन्हें सलाम करता हूं।

दरअसल पथरागुड़ा के रहने वाले शहीद उपेंद्र साहू को बीते 14 मार्च मुठभेड़ के दौरान गोली लगी थी। दंतेवाड़ा, जगदलपुर की सीमा से सटे जंगलों में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में यह घटना हुई। वह छत्तीसगढ़ पुलिस की आर्म फोर्स में पदस्थ थे। मारडूम क्षेत्र से पुसपाल के आगे घोटियामोड़ के पास पहुंचते ही उपेंद्र की टीम पर नक्सलियों ने हमला कर दिया था। इसमें  मध्यप्रदेश के सतना जिले के जनार्दनपुर के रहने प्रधान आरक्षक देवेंद्र सिंह भी शहीद हो गए थे। नक्सलियों ने आइईडी भी ब्लास्ट किया था।