पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नारायणपुर में फिर 5 नक्सलियों का सरेंडर:2 दिन के अंदर 10 जनमिलिशिया सदस्यों ने किया आत्मसमर्पण, हफ्तेभर में 4 इनामी समेत 9 नक्सली भी हुए गिरफ्तार

बस्तर, नारायणपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस का दावा है कि नक्सल विरोधी अभियान के कारण नक्सलियों पर दबाव बन रहा है, जिसके कारण लगातार अब उनके लिए काम करने वाले नक्सल सदस्य भी सरेंडर कर रहे हैं - Dainik Bhaskar
पुलिस का दावा है कि नक्सल विरोधी अभियान के कारण नक्सलियों पर दबाव बन रहा है, जिसके कारण लगातार अब उनके लिए काम करने वाले नक्सल सदस्य भी सरेंडर कर रहे हैं

बस्तर के नारायणपुर में माओवादियों के लिए काम करने वाले नक्सल सदस्य लगातार सरेंडर कर रहे हैं। जिले में शनिवार को फिर 5 नक्सल सदस्यों ने समर्पण किया है। इसके साथ ही 2 दिनों के अंदर 10 नक्सल सदस्यों ने नक्सलियों की गलत नीतियों से असंतुष्ट होकर पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है। पुलिस का दावा है कि नक्सल विरोधी अभियान के कारण नक्सलियों पर दबाव बन रहा है, जिसके कारण लगातार अब उनके लिए काम करने वाले नक्सस सदस्य भी सरेंडर कर रहे हैं। इधर, हफ्ते भर में ही इसी जिले में 4 इनामी समेत 9 नक्सलियों को गिरफ्तार भी किया गया है।

इन पांचों ने किया सरेंडर

  • महाराजी कश्यप, ये 2007 से नक्सलियों के संगठन में था, तब से नक्सलियों की कृषि शाखा में सक्रिय रूप से कारम कर रहा था।
  • जगदीश नाग, ये 2016 नक्सलियों के संगठन में था, ये नक्सलियों के लिए मिलिशिया सदस्य के रूप में काम कर रहा था।
  • जगनाथ नाग, ये 2018 में नक्सलियों के संगठन में भर्ती हुआ था, तब से नक्सलियों के लिए मिलिशिया सदस्य के रूप में काम कर रहा था।
  • चैतराम कोर्राम,ये 2007 में माओवादियों के संगठन में भर्ती हुआ था, तब से नक्सलियों की स्कूल शाखा में काम कर रहा था।
  • लच्छीन नाग ये 2016 नक्सलियों से संगठन में था, ये नक्सलियों की न्याय शाखा में काम करता था।

नक्सल सदस्य मुख्य रूप से काम क्या करते हैं ?

  • नक्सलियों के लिए खाने की व्यवस्था करना।
  • गांव में अंजान व्यक्तियों के आने पर उनसे पूछताछ और निगरानी करना।
  • गांवों में नक्सली साहित्य और पोस्टर लगाना।
  • नक्सलियों को पुलिस की क्षेत्र में आने की सूचना देना।
  • नक्सलियों के लिए बाजारों से दैनिक उपयोग का सामान खरीदना।
  • पुलिस पार्टी की रेकी करना जैसे काम करते थे।
शुक्रवार को भी पुलिस के समक्ष पांच नक्सल सदस्यों ने सरेंडर कर दिया था।
शुक्रवार को भी पुलिस के समक्ष पांच नक्सल सदस्यों ने सरेंडर कर दिया था।

शुक्रवार को भी 5 नक्सल सदस्यों ने किया था सरेंडर, वो भी यही काम करते थे
पायको मंडावी कुतुल पंचायत मिलिशिया सदस्य, गुड्डी ध्रुवा धुरबेड़ा पंचायत मिलिशिया सदस्य, भीमा कोवाची गोमागाल पंचायत मिलिशिया सदस्य, बुधू चेरका आलबेड़ा पंचायत मिलिशिया सदस्य और सोनू उसेंडी तोके पंचायत मिलिशिया सदस्य ने भी नक्सलियों की गलत नीतियों से तंग आकर समर्पण कर दिया था।

30 नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना के बाद जिला बल और DRG की टीम ओरछा थाना इलाके में गई थी। जहां डेंगलपुट्टीपारा के पास नक्सली फायरिंग करने लगे। उसी दौरान कुछ नक्सली जंगल की ओर भाग निकले। इसके बाद पुलिस ने मौके से 5 नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया था।
30 नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना के बाद जिला बल और DRG की टीम ओरछा थाना इलाके में गई थी। जहां डेंगलपुट्टीपारा के पास नक्सली फायरिंग करने लगे। उसी दौरान कुछ नक्सली जंगल की ओर भाग निकले। इसके बाद पुलिस ने मौके से 5 नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया था।

1 मई को आधे घंट चली फायरिंग के बाद एक इनामी समेत 5 नक्सली दबोचे गए थे
जिले के ओरछा इलाके में भी पुलिस ने 1 मई को 5 नक्सलियों को गिरफ्तार किया था। उस दौरान पुलिस और नक्सलियों की बीच मुठभेड़ हो गई थी। फिर करीब आधे घंटे चली फायरिंग के बाद जवानों ने मौके से 5 लाख के इनामी समेत 5 नक्सलियों को गिरफ्तार किया था। इतना ही नहीं उन नक्सलियों से 3 बंदूक, एक पीट्ठू बैग,4 साॅल्डरिंग ऑयरन, नक्सली साहित्य, 6 डेटोनेटर, 1 बैटरी बरामद किया था । उस दौरान जवान 30 से ज्यादा नक्सलियों के होने की सूचना पर मौके पर रवाना हुए थे।

28 मई को 3 इनामी सहित 4 माओवादियों को किया था गिरफ्तार
28 मई को भी पुलिस ने एक और कार्रवाई की थी, जिसमें 3 इनामी सहित 4 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया था। इसमें सोनारू आंचला, फागुराम आंचला, सोनू राम (10-10 हजार के इनामी) और मंगतुराम पोटाई शामिल थे। इन नक्सलियों से भी 2 नग डेटोनेटर,1 बंडल बिजली वायर और अन्य सामान बरामद किया गया है। गिरफ्तार किए गए नक्सलियों पर 20 नवंबर 2019 को ईरकभट्टी और कोहकामेटा रोड़ निर्माण कार्य में लगे 3 ट्रैक्टर को आग लगाने का आरोप था। इसके अलावा 30 अक्टूबर 2020 को कोहकामेटा से ईरकभट्टी मार्ग में बम विस्फोट की घटना में भी ये शामिल थे। उस बम विस्फोट में ITBP एक जवान भी घायल हुआ था।

खबरें और भी हैं...