पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अस्पताल तक जाने की सड़क बंद:जमीन मुआवजे का निपटारा नहीं इसलिए मुक्तिधाम जाने तक का रास्ता नहीं मिला

बलौदा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इस तरह खराब हो गई है बाइपास सड़क। - Dainik Bhaskar
इस तरह खराब हो गई है बाइपास सड़क।
  • कीचड़ में चलना हुआ मुश्किल

बलौदा बायपास का अधूरा निर्माण ग्राम चारपारा के लिए अभिशाप बन गया है। यहां किसी की मौत हो जाने पर अंतिम क्रिया हेतु मुक्तिधाम तक भी पहुंचाने के लिए लोग परेशान हो रहे हैं, क्योंकि दो वर्षों से अधूरे पड़े इस बायपास में ठेकेदार द्वारा बलौदा बिलासपुर मुख्य मार्ग से शनिचरा अकलतरा की ओर जानें वाली बायपास सड़क में मिट्टी डालकर छोड़ दिया गया है।

अधूरा बाइपास अब बरसात में दलदल का रुप ले लिया है। अब इसमें वाहन तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। इसी जगह में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सेवा सहकारी समिति, धान संग्रहण केन्द्र, मुक्तिधाम ऐसी जगह है जहां ग्रामीणों को लगभग हर रोज जाना पड़ता है। लगभग तीन चार वर्षों से बलौदा के हरदीबाजार रोड से रामपुर, चारपारा होते बुचिहरदी अकलतरा सड़क तक 6 किमी बाइपास सड़क का निर्माण हो रहा है। लेकिन तीन चार जमीन मालिकों की जमीन के मुआवजा विवाद में बायपास का निर्माण अटका पड़ा है। जिसका खामियाजा चारपारा के ग्रामीणों को उठाना पड़ रहा है। क्योंकि बायपास सड़क के मार्ग में चारपारा के सभी महत्वपूर्ण अस्पताल, मुक्तिधाम, शासकीय राशन दुकान, धान खरीदी केंद्र आदि हैं जिसमें लोगों को अनिवार्य रुप से जाना ही पड़ता है। ग्रामीणों ने बताया गांव में अगर कोई मर जाता है तो भारी परेशानी हो जाती है क्योंकि निर्माणाधीन बायपास सड़क में चारों तरफ कीचड़ ही कीचड़ है। उसमें से शव यात्रा को मुक्ति धाम तक लेकर जाना किसी चुनौती से कम नहीं।

सामुदायिक भवन से हो रहा राशन वितरण
ग्राम पंचायत चारपारा के उप सरपंच महेंद्र गिरी गोस्वामी ने बताया कि बायपास की दुर्दशा एवं उसमें कीचड़ की वजह से उचित मूल्य की राशन दुकान को फिलहाल सामुदायिक भवन में शिफ्ट कर राशन का वितरण कराया जा रहा है। गोस्वामी का कहना है कि राशन का वितरण हेतु तो व्यवस्था बना दी गई लेकिन मुक्ति धाम एवं अस्पताल का कैसे करें।

खबरें और भी हैं...