पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

न्यायिक हिरासत में भेजा:गिरफ्तार नक्सली को पुलिस ने भेजा जेल, 2005 के नरसंहार में था शामिल

देवरी23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्राम रक्षा दल का अगुवाई कर रहे तेरह लोगो को घर उठा कर ले गया था

भेलवाघाटी पुलिस द्वारा बीते मंगलवार देर शाम को गिरफ्तार किये गये नक्सली को भेलवाघाटी पुलिस ने बुधवार को आवश्यक पूछताछ के बाद सुरक्षा व्यवस्था के साथ न्यायिक हिरासत में भेज दिया। बताते चलें कि बीते मंगलवार देर शाम को भेलवाघाटी थाना प्रभारी को गुप्त सूचना मिली थी कि भेलवाघाटी थाना कांड संख्या 73/2005 के नामजद नक्सली मुंशी मुर्मू उर्फ मुंशी मांझी अपना घर(बिहार) चकाई थाना क्षेत्र के मड़वा आया हुआ है।

जिसके बाद भेलवाघाटी थाना पुलिस ने चकाई सीआरपीएफ के सहायक कमांडेंट अविनाश राय से सम्पर्क कर एक टीम का गठन कर मड़वा गांव स्थित नक्सली के घर मे छापामारी कर नक्सली को गिरफ्तार किया। बुधवार को नक्सली मुंशी मुर्मू, उर्फ मुंशी मांझी से आवश्यक पूछताछ के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया। वर्ष 2005 में सूबे के प्रथम मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के दिशा निर्देश पर भेलवाघाटी थाना इलाके में नक्सलियों से लोहा लेने के उद्देश्य से ग्राम रक्षा दल का गठन कर इलाके के युवाओं को जोड़ा गया था। जिसमें बाबूलाल मरांडी के अनुज नुनूलाल मरांडी ने ग्राम रक्षा दल के सदस्यों को टाॅर्च व लाठी देकर नक्सलियों से मुकाबला करने के लिए तैयार किया था। जिससे खफा होकर नक्सलियों ने इलाके में ग्राम रक्षा दल का अगुवाई कर रहे तेरह लोगो को घर उठा कर ले गया था।

खबरें और भी हैं...