पर्वों की हरियाली:25 दिन में 15 तीज-त्योहार, हरेली आज, सावन में और भी हैं शुभ योग

जांजगीर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अमावस्या से लेकर नागपंचमी, रक्षाबंधन और जन्माष्टमी त्योहार

सावन का पावन माह अपने साथ तीज-त्याेहार और शुभ योगों की हरियाली लेकर आया है। वैसे तो सावन 22 अगस्त को खत्म हो रहा है, लेकिन पूरे अगस्त माह के बचे 25 दिनों में 15 तीज-त्योहार और शुभ योगों का संयोग है। इनमें हरियाली तीज, हरियाली अमावस्या से लेकर नागपंचमी, रक्षाबंधन, जन्माष्टमी त्योहार और सर्वार्थ सिद्धि जैसे शुभ संयोग शामिल हैं। 8 अगस्त रविवार को हरियाली अमावस्या पर सर्वार्थ सिद्धि और रवि पुष्य योग है।

पुष्य नक्षत्र में हरियाली आज
हरेली रविवार को मनाई जाएगी। यह सावन मास के अमावस्या के दिन मनाया जाता है। इसे हरियाली अमावस्या और चितलागी अमावस्या भी कहते हैं। किसान परिवार इस दिन कृषि औजारों की पूजा करते है। घर-घर में गुरहा (गुड़) चीला और सोहारी जैसे पारंपरिक व्यंजनों की मिठास घुलेगी और गली-मोहल्लों में लोग गेड़ी चढ़ने का आनंद लेंगे। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ी त्योहार और पर्वों की शुरुआत होती है। पं. अनिल शर्मा ने बताया कि इसी दिन पुष्य नक्षत्र और साथ में श्रीवत्स योग है। पुष्य नक्षत्र रवि पुष्य योग का निर्माण कर रहा है, जो कि अत्यंत शुभ है।

13 को मनाई जाएगी नागपंचमी...
नागपंचमी इस बार 13 अगस्त को मनाई जाएगी। इस अवसर पर भक्त भगवान भोलेनाथ के साथ नागदेव की भी पूजा करेंगे। इस दिन घर की दीवार पर गोबर के लेप से नागदेव का चित्र बनाने का भी महत्व है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन नाग की पूजा की जाए तो सभी कष्टों का निवारण होता है। पंचोपचार पूजा करने का भी विधान है। इस माह नागपंचमी, रक्षाबंधन व जन्माष्टमी समेत 18 से ज्यादा तीज-त्योहार, शुभ योग भी।

इन तिथियों पर पड़ेंगे प्रमुख तीज त्योहार...

  • 8 अगस्त: देव-पितृ कार्य, हरियाली अमावस्या
  • 10 अगस्त: दूज अमावस्या, स्वामी करपात्री जयंती
  • 11 अगस्त: स्वर्ण गौरी अमावस्या, झूला तीज
  • 12 अगस्त: विनायक चतुर्थी, दूर्वा चतुर्थी
  • 13 अगस्त: नागपंचमी
  • 15 अगस्त: तुलसीदास जयंती
  • 16 अगस्त: दुर्वा अष्टमी व्रत
  • 17 अगस्त: मंगल गौरी व्रत
  • 18-19 अगस्त: पुत्रदा एकादशी
  • 20 अगस्त: शुक्ल प्रदोष
  • 21 अगस्त: व्रत पूर्णिमा, सत्यनारायण पूजन
  • 22 अगस्त: रक्षाबंधन, श्रावणी कर्म
  • 25 अगस्त: कजली व सतवा तीज
  • 30 अगस्त: जन्माष्टमी
  • 31 अगस्त: गोगा नवमी
खबरें और भी हैं...