हेल्थ डिपार्टमेंट में नौकरी लगाने के नाम पर ठगा:2007 में सपना दिखाकर लिए सवा 2 लाख, मगर आज तक नहीं लगी जॉब; दो पर केस दर्ज

जांजगीर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जांजगीर में 2 ठगों ने मिलकर एक किसान से नौकरी लगाने के नाम पर ठगी की है। (फाइल) - Dainik Bhaskar
जांजगीर में 2 ठगों ने मिलकर एक किसान से नौकरी लगाने के नाम पर ठगी की है। (फाइल)

जांजगीर जिले में नौकरी लगाने के नाम पर फिर से ठगी का मामला सामने आया है। इस बार ठगों ने एक शख्स को हेल्थ डिपार्टमेंट में नौकरी लगाने के नाम पर ठगा है। बताया गया कि ठगों ने 2007 में पीड़ित के साले की नौकरी लगाने के नाम पर सवा 2 लाख लिए थे। मगर आज तक उसकी नौकरी नहीं लगी सकी है। जिसके बाद परेशान होकर पीड़ित ने दो आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया है। मामला शिवरीनारायण थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, कुरियारी निवासी दिलाराम कश्यप से 2007 में गाव के ही परसराम दिव्य और श्यामलाल दिव्य ने कहा था कि हम तुम्हारे साले की नौकरी लगवा देंगे। हमारी हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों से अच्छी पहचान है। लेकिन इसके लिए कुछ पैसे आपको देने होंगे। आरोपियों ने दिलाराम को कहा कि आपको इसके लिए 2 लाख 25 हजार रुपए देने होंगे। इसके बाद आपके साले की नौकरी कुछ ही दिनों में लग जाएगी।

शिवरीनारायण पुलिस इस मामले में जांच कर रही है।
शिवरीनारायण पुलिस इस मामले में जांच कर रही है।

दिलाराम गांव में खेती-किसान का काम करता है। उसने बताया कि उसने जो कुछ रकम जोड़ कर रखी थी। उसने 2007 में ही परसराम और श्यामलाल को दे दिया। पैसा लेने के बाद उन्होंने कहा कि अभी कुछ दिन इंतजार करो। इस पर दिलाराम इंतजार करता रहा। मगर काफी दिन बीत जाने के बाद भी उसके साले की नौकरी नहीं लगी। इसके बाद उसने फिर दोनों से संपर्क किया तो वे फिर से कहने लगे कि थोड़ा और समय लगेगा। इस तरह से महीने, फिर साल बीतते गए। लेकिन दिलाराम की साले की नौकरी नहीं लगी।

स्टाम्प पेपर में लिखकर पैसा वापस करने का वादा किया

इधर, जब 8 साल बीत गए तो दिलाराम ने 2016 में फिर से दोनों आरोपियों से कहा कि मुझे मेरे पैसे चाहिए, नहीं तो आप लोगों के खिलाफ शिकायत करूंगा। यह बात सुनकर परसराम और श्यामलाल ने उसे स्टाम्प पेपर में लिखकर वादा किया हम पैसे वापस कर देंगे। कागज में पैसा वापस पाने के वादा पाकर दिलाराम शांत हो गया। इसके बावजूद भी आरोपियों ने उसे पैसे वापस नहीं किए। जिसके बाद दिलाराम ने अब परेशान होकर 13 अक्टूबर को दोनों के खिलाफ शिवरीनारायण थाने में केस दर्ज कराया है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच में जुटी है।