बढ़ रहा है खतरा / 3 मरीज हुए स्वस्थ इसलिए रेड जोन में जाने से बचे हम

3 patients became healthy so we avoid going to the Red Zone
X
3 patients became healthy so we avoid going to the Red Zone

  • अब तक नवागढ़, बम्हनीडीह, सक्ती में मिले हैं कोरोना पॉजिटिव
  • सूचना मिली तो रात में ही कलेक्टर सहित अफसर पहुंचे सेंटर

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

जांजगीर. जिले में मजदूरों की आने की बढ़ती संख्या के साथ ही जिले के विकासखंडों को कोरोना के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग द्वारा अलग-अलग जोन में विभाजित किया है। जिले के सात ब्लॉक बलौदा, सक्ती, नवागढ़, बम्हनीडीह, डभरा, जैजैपुर, मालखरौदा अब रेड जोन से एक कदम दूर है। इन ब्लॉकों को ऑरेंज जोन में रखा है, जबकि इनमें से केवल तीन ब्लॉक सक्ती, नवागढ़ और बम्हनीडीह में ही अभी तक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। 
तीसरे लॉकडाउन के समाप्त होने पर कोरोना के कारण रेड, ऑरेंज व ग्रीन जोन का निर्णय लेने का अधिकार केंद्र ने राज्य सरकारों को दे दिया है। जोन तय करने के लिए केंद्र सरकार के गाइडलाइन के अनुसार राज्य सरकार ने जिले में कोेरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या, मरीजों के दुगने होने की दर तथा सैंपल जांच प्रति लाख जनसंख्या के आधार पर रेड, ऑरेंज व ग्रीन जोन की घोषणा की है। जांजगीर-चांपा जिले में तीन मरीजों के स्वस्थ होने से जिला रेड जोन में जाने से बच गया है। 
सैंपल लेने के लिए आया नया नियम, सभी का नहीं लेंगे सैंपल- नोडल अधिकारी अग्रवाल के अनुसार कोरोना पॉजिटिव आने के बाद किनका सैंपल लेना है, इसके लिए नए नाॅर्म्स आए हैं, जिसके अनुसार सभी लोगों का सैंपल नहीं लिया जाएगा, बल्कि ऐसे मजदूर जो उसी सेंटर के हैं उनमें यदि लक्षण पाए जाते हैं तो उनका सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जाएगा। 
दिल्ली से लौटी महिला के साथ आए थे 376 यात्री
शुक्रवार की रात एम्स से मिली रिपोर्ट में जिस महिला को पॉजिटिव बताया  है, वह दिल्ली से पति के साथ लौटी है। उस ट्रेन में 17 मई को 376 श्रमिक आए थे। जिनमें से 155 लोगों को कुलीपोटा के आईटीआई में क्वारेंटाइन किया  है। श्रमिक के कोरोना संक्रमित मिलने की सूचना पर कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक, एसपी पारूल माथुर  तीर्थराज अग्रवाल, एसडीएम मेनका प्रधान, डॉ.एसआर बंजारे सेंटर पहुंचे।
मरीज मिला तो कंटेनमेंट जोन बना कुलीपोटा 
संक्रमित होने की सूचना मिलते ही सभी आवश्यक तैयारी शुरू कर दी गई। स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकाल के अनुसार कांटेक्ट ट्रेसिंग, ट्रेवल हिस्ट्री, सर्वे आदि का काम भी तत्काल प्रारंभ किया गया। एंबुलेंस से रवाना होने के बाद पूरे भवन को तत्काल सैनिटाइज किया गया। एसपी माथुर ने कुलिपोटा को कंटेनमेंट जोन के प्रोटोकॉल के अनुसार सुरक्षा प्रबंध और बैरिकेडिंग के निर्देश दिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना