नवरात्रि विशेष:महामाया मंदिर में श्रद्धालुओं ने जलाए 1101 मनोकामना ज्योत

हसौद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांव के  मां महामाया मंदिर में लोगों ने आस्था के ग्यारह सौ एक  ज्योति कलश जलवाए हैं। - Dainik Bhaskar
गांव के  मां महामाया मंदिर में लोगों ने आस्था के ग्यारह सौ एक  ज्योति कलश जलवाए हैं।

गांव के मां महामाया मंदिर में लोगों ने आस्था के ग्यारह सौ एक ज्योति कलश जलवाए हैं। शाम को मंदिर प्रांगण में मांदर की थाप के साथ देवी की पूजा अर्चना व आरती होती है। ग्रामीणों के अनुसार यहां स्थापित मां महामाया भटगांव राजघराने की कुल देवी है, जो अड़भार से भटगांव ले जाते समय देवी के शर्तानुसार सुबह हो जाने के कारण यहीं रुक गई।

बाद में देवी को ले जाने के लिए राजा ने कई प्रयास किये लेकिन वे नहीं गईं और राज परिवार से प्रतिवर्ष चैत्र नवरात्रि व क्वांर नवरात्रि में गाँव के सिवाना से पहले नंगे पैर माँ के दरबार पूजा करने आने लगे। किंतु पिछले करीब पांच दशक से वर्ष से राज परिवार के कोई सदस्यों के न आने से गाँव के लोगों ने पूजा पाठ शुरु किया तब से आज तक गाँव के लोग पूजा अर्चना करते हैं।

खबरें और भी हैं...