पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

डॉक्टर्स डे पर विशेष:4 माह से मरीजों की सेवा में जुटे हैं डॉक्टर्स, फिर भी हौसला कायम

जांजगीर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रवासी मजदूरों की नाराजगी झेलते हुए भी डॉक्टर अपने कर्तव्य पथ पर डटे हुए हैं

सकारात्मक सोच व परिवार के सहयोग से मरीजों की सेवा करने की मिली प्रेरणा 
डॉ. अनिल जगत 
(एमडी जिला अस्पताल,आरएमओ)

कोरोना संक्रमण काल को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा वैश्विक आपदा घोषित किया गया है। यह समय अपने देश के साथ साथ पूरे विश्व के लिए चुनौती भरा है।इस चुनौती का सामना करने के लिए विभिन्न विभागों को अलग अलग जिम्मेदारी दी गई है। एक संक्रामक बीमारी होने के कारण इसके रोकथाम एवं इलाज की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग की ही है।
अपने सर्विस पीरियड का ऐसा समय है जिसने बहुत कुछ सिखाया है। प्रवासी मजदूरों की जांच,उनका इलाज करना, उन्हें नियत समय तक क्वारेंटाइन में रखना कठिन होता है। कई बार वे नाराज हो जाते हैं। ऐसे समय में उनकी भी मानसिक स्थिति को समझते हुए जिम्मेदारी से खुद को संभालकर नियंत्रित होकर काम करना जरूरी था। कोरोना जैसी बीमारी की कल्पना किसी ने नहीं की थी, लेकिन जब बीमारी आ गई तो इससे मरीज के साथ संघर्ष डॉक्टर व मेडिकल स्टॉफ को भी करना था। मैं पिछले 3 माह से अपने परिवार से दूर हूं। पत्नी भी डॉक्टर हैं इसलिए उनका और पूरे परिवार का पूरा सहयोग मिला है। यह जानते हुए भी कि डायरेक्ट कांटेक्ट में होने के कारण संक्रमण का खतरा हर पल बना हुआ है। उन्होंने सहयोग किया और पढ़ाई के दौरान सिखाए गए कठिन दौर में काम करने के तरीके भी काम आए। मरीजों को इलाज कर बचाने के प्रयास में भी सहभागी बनकर जान बचाना अपने आप में गर्व की बात है।

सरकारी अस्पतालों की साख वापस लौटने का अच्छा मौका है यह काल
डॉ. यूसी शर्मा एमबीबीएस, एमडी (मेडिसिन)
कोरोना काल में सरकारी अस्पतालों का योगदान सराहनीय है। ज़िला चिकित्सालयों को खोई हुई साख वापस पाने का यह एक अच्छा अवसर है। निजी स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने वाले चिकित्सक को भी अपने कार्यशैली में बदलाव करना पड़ा है। मरीज़ों की ट्रैवल हिस्ट्री लेना अनिवार्य हुआ है। पीपीई किट लम्बे समय तक पहनकर इलाज करना आसान नहीं होता है। वरिष्ठ चिकित्सकों को अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान देना होगा। वैश्विक महामारी SARS-CoV2 नया वायरस संक्रमण है। इलाज के लिए कोई एक दवा पर अभी सहमति नहीं बन पाई है। बहुत से आशाजनक दवाएं इलाज के लिए सामने आयी है।  वैक्सीन बनाने की होड़ में बहुत से देशों में विभिन्न स्तर पर काम हो रहा है, पर एक कुशल वैक्सीन के आने में समय लगता है। राज्य में तीन चरण में संक्रमण फैला है। पहले विदेशों से आए व्यक्तियों के माध्यम से, उसके बाद कटघोरा मरकज़ संक्रमितों से और अब क़रीब 5 लाख मज़दूरों की वापसी से। चौथे चरण कम्युनिटी ट्रांसमिशन से बचाव करना होगा। उसके लिए सोशल डिस्टेंस और मास्क बहुत ज़रूरी है।  डॉक्टर्स तो हॉस्पिटलों में मरीजों का इलाज करके अपना कर्तव्य निभा रहे हैं लेकिन लोगों को भी अब सुरक्षा के नियमों को पालन करना  अत्यंत जरूरी हो गया है। लोग बहुत जरूरी होने पर घर से बाहर निकले और बाहर निकलते समय भी अपनी सुरक्षा का पूरा ख्याल रखें। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें