पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भागने से पहले ही पकड़ लिए गए सभी आरोपी:जेल में गिरोह बनाया, करने लगे चोरी, पांच गिरफ्तार

जांजगीर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जानकारी देते एएसपी महादेवा, पीछे पकड़े गए आरोपी। - Dainik Bhaskar
जानकारी देते एएसपी महादेवा, पीछे पकड़े गए आरोपी।

अलग अलग मामलों में जेल में बंद कैदियों ने मिलकर एक गैंग बना लिया। अपने गैंग में दूसरों को भी शामिल किया और चोरी करने लगे। चोरों के इस गिरोह ने ससहा में संचालित शराब दुकान में दो बार चोरी की। पहली बार तीन लोग शामिल थे। इस दौरान 1 लाख 84 हजार रुपए ले भागे, दूसरी बार इस गिरोह में शामिल भट्‌ठी के कर्मचारी अनुज टंडन ने अकेले ही लॉकर से 9 लाख 25 हजार 110 रुपए चुरा लिए।

इन चोरों ने सारंगढ़ के ज्वेलरी दुकान से भी करीब 20 किलो चांदी के जेवरात की चेारी कर ली। चोरी के बाद आरोपी भागने की फिराक में थे कि पुलिस ने आरोपियों के सीडीआर के आधार पर उन्हें पकड़ लिया। एएसपी संजय महादेवा ने बताया कि पामगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम ससहा की शराब दुकान में 31 जुलाई की रात चोरों ने लॉकर तोड़कर नकदी रकम 1 लाख 84 हजार रुपए पार कर दिया था। इस मामले की पतासाजी की जा रही थी कि फिर से 22 अगस्त की रात इसी शराब दुकान में चोरी हो गई। इस दौरान वेंटिलेशन की जाली उखाड़ कर चोर घुसा और लॉकर को खोलकर चोर यहां से 9 लाख 25 हजार 110 रुपए लेकर फरार हो गया। पुलिस दोनों मामलों की विवेचना कर रही थी। तभी यह जानकारी मिली कि पहली घटना 31 जुलाई के दिन बोरसी निवासी प्रकाश टंडन उस क्षेत्र में देखा गया था। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने साथियों के साथ घटना कारित करना स्वीकारा।

आराेिपयों ने सारंगढ़ की चोरी भी स्वीकारी
पकड़े गए तीनों आरोपियों प्रकाश टंडन, कीर्तन पटेल, दीपक टंडन ने पूछताछ में यह भी स्वीकार किया कि इन तीनों ने अपने एक अन्य साथी गोरबा थाना बिलाईगढ़ निवासी कुंजराम लहरे के साथ मिलकर 22 अगस्त की रात लक्ष्मी ज्वेलर्स सारंगढ़ का भी ताला तोड़कर सोने चांदी के जेवरात की चोरी करने की भी बात स्वीकारी।

चेारी और गांजा बेचने के जुर्म में जेल में थे तब हुई दोस्ती
पामगढ़ थाना प्रभारी एसआई ओमप्रकाश कुर्रे ने बताया कि बोरसी निवासी आरोपी दीपक टंडन और प्रकाश टंडन पहले भी चोरी के आरोप में पकड़े गए थे। इन्हें जेल भेजा गया था। वहीं इन दोनों की मुलाकात बिर्रा थाना क्षेत्र में गांजा के अवैध परिवहन के प्रकरण में जेल में बंद आरोपी कीर्तन पटेल से भेंट हुई थी। यहीं से तीनों की दोस्ती हुई और चोरी करने लगे।

खबरें और भी हैं...