पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बढ़ा संकट:गैस सिलेंडर 970 पर पहुंचा, नहीं मिल रही सब्सिडी

कामठी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वनांचल क्षेत्र में गैस सिलेंडर का उपयोग नहीं हो रहा। - Dainik Bhaskar
वनांचल क्षेत्र में गैस सिलेंडर का उपयोग नहीं हो रहा।
  • उज्ज्वला योजना का बुरा हाल, वनांचल क्षेत्र में गैस सिलेंडर से नहीं लकड़ी से चूल्हे पर भोजन बना रहे ग्रामीण

घरेलू गैस सिलेंडर के रेट लगातार बढ़ रहे हैं। वहीं सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी घटती जा रही है। उपभोक्ताओं को रीफिल के वक्त बिना सब्सिडी वाली कीमत ही चुकानी पड़ती है। सब्सिडी की रकम खाते में कुछ समय बाद आने की व्यवस्था थी। अब सिलिंडर की कीमत 970 रुपए हो चुकी है लेकिन लोगों के खाते में सब्सिडी नहीं आ रही है। 2 साल पहले तक रसोई गैस सिलेंडर के रिफिल पर 397 रुपए तक सब्सिडी मिल रही थी, जो इस साल जुलाई तक घटकर 35.14 रुपए पहुंच गई। मौजूदा वक्त में सब्सिडी और नॉन सब्सिडी सिलेंडर की कीमत बराबर हो चुकी है। वनांचल क्षेत्र में अब गैस सिलेंडर से लोग दूरी बना लिए हैं। ग्राम कामठी के महिलाओं ने बताया कि सिलेंडर से भी कम दाम में लकड़ी मिल जाती है। इसी का उपयोग कर रही हैं।

9 महीने में 190 रुपए बढ़े रेट
जनवरी 2021 में घरेलू सिलेंडर का दाम 732 रुपए था 9 महीने में अब तक 6 बार सिलेंडर का दाम बढ़ने से 190 रुपए का इजाफा हो गया। जिले में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 81 हजार से अधिक हितग्राही हैं। सिलेंडर की बढ़ती कीमत के चलते 50 हजार से अधिक हितग्राही रिफिलिंग नहीं करा रहे हैं। बीजेपी जब केंद्र में आई तो 1 मई 2016 में उज्ज्वला योजना शुरू की थी। उस वक्त घरेलू गैस सिलिंडर की कीमत 550 रुपए थी, जिसमें लगभग 200 से 250 रुपए सब्सिडी मिलती थी। अब सिलिंडर की कीमत 900 रुपए से अधिक है।

इस तरह जानिए, खाते में सब्सिडी आ रही है या नहीं
सब्सिडी राशि को लेकर केन्द्र सरकार ने पूरी प्रक्रिया को ऑनलाइन किया है। संबंधित हितग्राही mylpg.in पोर्टल में जानकारी ले सकते हैं। पोर्टल में सबसे पहले 17 डिजिट का एलपीजी आईडी भरना होगा। रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के साथ केप्चा कोड भरें, फिर मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा। इस तरह सब्सिडी संबंधित जानकारी फाॅर्म भरने के बाद मिल जाएगी।

वर्ष 2018

  • जनवरी-अप्रैल: 397 रुपए
  • मई-अक्टूबर: 355 रुपए
  • नवंबर-दिसंबर: 330 रुपए

वर्ष 2019

  • जनवरी-अप्रैल: 290 रुपए
  • मई-अक्टूबर: 245 रुपए
  • नवंबर-दिसंबर: 190 रुपए

वर्ष 2020

  • जनवरी-अप्रैल: 110 रुपए
  • मई-दिसम्बर: 35.50 रुपए

वर्ष 2021

  • जनवरी-अगस्त: 35 रुपए
  • (आंकड़े ऑनलाइन पेट्रोलियम पोर्टल के अनुसार है।)
खबरें और भी हैं...