कोरोना से जंग / कैडेट्स के लिए देश सेवा का सुनहरा अवसर: कर्नल मेहता

Golden opportunity to serve the country for cadets: Colonel Mehta
X
Golden opportunity to serve the country for cadets: Colonel Mehta

  • निस्वार्थ सेवा दे रहे एनसीसी कैडेट्स हुए सम्मानित

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

जांजगीर. जिले में निस्वार्थ सेवा दे रहे एनसीसी कैडेट्स का सम्मान कैप, पानी बॉटल, नोटबुक एवं पेन से किया गया। यह सम्मान 7 सीजी बटालियन के कमान अधिकारी कर्नल रजनीश मेहता, अकादमिक अधिकारी ले.कर्नल भरत क्षेत्री ने किया। 
कर्नल मेहता ने कहा एनसीसी देश का सबसे बड़ा वर्दीवाला युवा संगठन है, जो विभिन्न तरह की सामाजिक सेवा और सामुदायिक विकास की गतिविधियां संचालित करता है। एनसीसी के कैडेट अपने संगठन की स्थापना के समय से ही बाढ़, चक्रवात और भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं के दौरान राष्ट्र सेवा में योगदान देते रहे हैं। आज देश में सबसे बड़ी आपदा कोरोना है। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने में मदद करने के लिए छत्तीसगढ़ प्रांत में सर्वप्रथम जांजगीर के कैडेट्स द्वारा कोरोना के विरूद्ध मोर्चा संभाला गया। इसकी चर्चा पूरे राज्य में है।  ग्रुप कमांडर ब्रिगेडियर जेएस भारद्वाज ने भी जांजगीर की सराहना की है।  एनसीसी अधिकारी डॉ. मनीराम बंजारे एवं दिनेश चतुर्वेदी के नेतृत्व में जिले में 50 कैडेट्स अपनी सेवा दे रहे हैं, जिसमें 36 बालक एवं 14 बालिकाएं हैं। इस दौरान बालक कैडेट्स में हिमांशु, धनराज, सतीश, गजेंद्र, अजय, अशोक, रवि, योगेश, संदीप, उमाशंकर, अनिल, देवेंद्र, ओमनारायण, रामरतन सूरज, संजू, मुकेश, सुरेंद्र, जितेश, अभिषेक, अजय, भुवनेश्वर उपस्थित थे।
शत प्रतिशत बालिका कैडेट्स दे रहीं सेवाएं
आपातकाल में सेवा देने के लिए लड़कियां लड़कों से आगे हैं। टीसीएल कॉलेज के 14 में से 14 बालिका कैडेट्स अपनी ड्यूटी निभा रही हैं। इन कैडेट्स में प्राची, अंजू, रिया, सुष्मिता, ललिता, प्रीति,  संजना, ममता, रामलता, ऋतु,  शानू, सबीना, शिवांगी, सविता शामिल हैं।
सेवा दे रहे कैडेट्स का होगा कोरोना टेस्ट
लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए कैडेट्स अपनी सेवा 31 मई तक देंगे। उसके बाद एनसीसी ऑफिसर एवं कैडेट्स का कोरोना टेस्ट भी कराया जाएगा। जिला अभी आरेंज जोन में है। रेड जोन की स्थिति में कैडेट्स की सेवा नहीं ली जा सकती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना