पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आर्मी के जवान की पार्थिव देह पहुंची गांव:अलविदा प्रतीक! गांव तुम्हे नहीं भूलेगा, तुम तो चले गए अपने पीछे अमिट निशानी छोड़ गए

शिवरीनारायण9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अंतिम यात्रा में विदाई देने पहुंचे ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
अंतिम यात्रा में विदाई देने पहुंचे ग्रामीण।
  • अपने सपूत को अंतिम विदाई देने उमड़ा गांव, प्रतीक आदित्य का किया गया ससम्मान अंतिम संस्कार, पूर्व सैनिकों ने भी दी विदाई

केरा के जवान प्रतीक आदित्य (20 वर्ष) का पार्थिव शरीर रविवार को गृहग्राम पहुंचा। देश की सेवा में गए जवान सपूत के असमय निधन हो जाने से गांव में शोक का माहौल है। अंतिम विदाई देने लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। हर कोई कांधा देने की कोशिश में था। शव को एक वाहन में रखकर गांव में अंतिम दर्शन के लिए भ्रमण कराया गया।

इस दौरान जवान प्रतीक आदित्य के सम्मान में लोगों ने नारे लगाए। नवागढ़ जनपद क्षेत्र के ग्राम केरा के भागीरथी आदित्य और सरिता देवी आदित्य का इकलौता बेटा प्रतीक आदित्य करीब दो साल पहले ही आर्मी में क्लर्क के पद पर चयनीत हुआ था। 3 जून की सुबह परेड में दौड़ के दौरान अचानक वह गिर गया। बताया जा रहा है कि उसी दौरान उसे हार्ट अटैक आ गया। जवान को पहले आर्मी अस्पताल ले जाया गया लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। प्रशिक्षण बॉम्बे इंजीनियर्स ग्रुप एन ट्रेनिंग सेंटर खिरकी पुणे में दिया जा रहा था। रविवार को शव गांव पहुंचा तो विदाई देने के लिए लोग पहुंचे।

अपने परिवार के साथ आखिरी बार खिंचाई ये तस्वीर ही अब धरोहर।
अपने परिवार के साथ आखिरी बार खिंचाई ये तस्वीर ही अब धरोहर।

पिछली बार आए तो खिंचाई थी तस्वीर
प्रतीक 12 जून को अपने घर आने वाला था, इसे वह अपने मां और पिता को सरप्राइज देने वाला था। वह तिथि भी नजदीक आ रही थी, लेकिन प्रकृति ने उसे अपने पास बुला लिया। पिछली बार जब वह आया था तो उसने अपनी मां, पिता और बहन के साथ तस्वीर खिंचाई थी। अब वह तस्वीर उसकी याद की निशानी बन गई है।

भूतपूर्व सैनिक संघ के सदस्यों ने दी अंतिम विदाई
प्रतीक आदित्य को अंतिम विदाई देने भूतपूर्व सैनिक संघ के तरफ से सैनिक के सम्मान में तिरंगा झंडा में लपेट कर सम्मान के साथ यात्रा निकाली गई। जिसमें भूतपूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष जवाहर लाल यादव ,सचिव असीमधर दीवान,राजेन्द्र कुमार पाण्डेय,रोहित सारथी,राम अवतार कश्यप,अरुण यादव,बैजनाथ राठौर, हितेश साहू,आर,के,साहू,जितेन्द्र चन्द्रा, प्रमोद साहू,मनोज खुटे,प्रवीण राठौर,परदेशी कहरा,पंकज तिवारी ,मदन मोहन पटेल, सतीश कश्यप ओंकार, विनोद सिंह, अखिलेश राकेश आदि शामिल थे।

तहसीलदार व सरपंच ने पुष्पचक्र किया अर्पित
गांव की ओर से सरपंच लोकेश शुक्ला व प्रशासन की ओर तहसीलदार प्रकाश साहू ने पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। अंतिम यात्रा के गलियों से गुजरने पर ग्रामीणों ने घरों से पुष्पवर्षा की। अंतिम यात्रा पंचायत भवन के पास से गढ़पारा होते हुए महानदी किनारे मुक्तिधाम पहुंची। शाम 6.30 बजे अंतिम संस्कार हुआ। मुखाग्नि प्रतीक के बड़े पापा के लड़के गजेन्द्र आदित्य ने दी।

खबरें और भी हैं...