पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:झलमला हाईस्कूल परिसर से हटाए अवैध कब्जे

अकलतरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अतिक्रमण हटाने के लिए जेसीबी से तोड़ा गया मकान। - Dainik Bhaskar
अतिक्रमण हटाने के लिए जेसीबी से तोड़ा गया मकान।

ग्राम पंचायत झलमला में शासकीय हाई स्कूल की 5 एकड़ शासकीय भूमि में गांव के कई लोगों द्वारा बेजा कब्जा कर मकान का निर्माण करने के साथ गांव के कुछ लोगों द्वारा शासकीय भूमि में जुताई करते हुए धान की फसल बोने की तैयारी की जा रही थी।

झलमला के ग्रामीणों द्वारा शासकीय भूमि से बेजा कब्जा हटाने के लिए कई बार मांग की गई । अतिक्रमण को राजस्व विभाग ने चिन्हांकित तो किया पर हटाया नहीं। दैनिक भास्कर ने 4 जुलाई को स्कूल की जमीन पर ग्रामीणों ने किया कब्जा समाचार को प्रमुखता से प्रकाशित की तो कलेक्टर ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाते हुए शासकीय भूमि से बेजा कब्जा हटाने का निर्देश दिए। बुधवार को हाई स्कूल परिसर में कब्जा हटाने के लिए तहसीलदार पवन कोसमा, नायब तहसीलदार आस्था चंद्राकर, पटवारी अभिषेक उपाध्याय एवं राजस्व विभाग की टीम जेसीबी मशीन लेकर पहुंची।

सरपंच शकुंतला देवी पटेल , उपसरपंच द्रौपदी बाई एवं गांव के पंचों की उपस्थिति में कब्जा हटाया। तीन मकानों को जेसीबी से तोड़ा गया। जितनी जमीन पर धान की फसल लगाई गई थी। जेसीबी चलाकर समतल कर दिया गया। तहसीलदार पवन कोसमा ने बताया कि अतिक्रमण हटाने के बाद सरपंच को बाउंड्रीवॉल व खेल मैदान के लिए इस्टीमेट बनाकर जपं एवं जिपं में भेजने का निर्देश दिया। उपसरपंच द्रोपदी बाई ने बताया कि भास्कर में समाचार प्रमुखता से प्रकाशन होने के बाद राजस्व विभाग ने सुध लेकर कब्जा हटाने की कार्यवाही की गई।

टीम पहुंची तो लोगों ने कब्जा छोड़ने मांगा समय

बेजाकब्जा हटाने के लिए जब तहसीलदार की टीम पहुंची तो अतिक्रमणकारी डर गए। नोटिस देने के बाद भी कब्जा नहीं छोड़ने वाले बेजा कब्जा हटाने के लिए कुछ दिन का समय मांगने लगे, लेकिन तहसीलदार द्वारा नोटिस देने के बाद भी बेजाकब्जा नहीं हटाने पर मकानों को तोड़ने के साथ-साथ शासकीय भूमि में बनाए गए खेत को समतलीकरण का कार्य किया गया।

खबरें और भी हैं...