पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से जंग:संक्रमण दर घटी इसलिए कल से अनलाॅक की उम्मीद

भाजांजगीर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में कोरोना के संक्रमण दर में आई कमी के बाद मंगलवार 1 जून से जिले के अनलॉक की संभावना बढ़ गई है। अप्रैल के पहले सप्ताह में कहर बनकर टूटा कोरोना ने डेढ़ माह में जिले की कमर तोड़ दी है। व्यापार व विकास पर इसका सीधा असर पड़ा है। 13 अप्रैल से जिले में सब ठप है।

जिले में लॉकडाउन के 49 दिन पूरे हो गए। इन दिनों में संक्रमण भी तेजी से फैला और मौतें भी सर्वाधिक इसी डेढ़ माह की अवधि में हुई है। इस अवधि में स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार 538 लोगों की मौत हुई है। जबकि इसी अवधि में 34 हजार से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। यह आंकड़ा पिछले साल भर से अधिक है। मई की शुरूआत में ही संक्रमण की दर जिले में 30 प्रतिशत थी, यानि 100 लोगों की जांच में औसतन 30 लोग जिले में काेरोना से संक्रमित मिलते रहे हैं। लेकिन मई के दूसरे पखवाड़े से इस दर में अप्रत्याशित रूप से कमी आई है। रविवार को जिले में संक्रमण की दर 4.39 प्रतिशत तक पहुंच गई। इसलिए अब अनलॉक की संभावना बढ़ गई है। इस बात की संभावना है कि इस बार अनलॉक में अधिकांश व्यापार को छूट मिल सकती है।

संक्रमण दर में कमी आई है और इसे बनाए रखना होगा
^जिले में अप्रैल की शुरूआत से लेकर वर्तमान स्थिति में संक्रमण दर में कमी जरूर आई है, हमारी कोशिश है कि यह दर जिले में 5% तक पहुंच जाए। हमारी अपील है कि लोग कोरोना के प्रोटोकाल का पालन करें। घर से निकलें तो नियमित रूप से मास्क पहनें, फिजिकल डिस्टेंस का पालन करें। भीड़भाड़ में जाने से बचें।''

लेकिन अनलॉक में रहना होगा पहले से अधिक सावधान
जिला प्रशासन द्वारा यदि अनलॉक किया जाता है तो लोगों को अपनी भूमिका और अधिक जिम्मेदारीपूर्वक निभानी होगी, क्योंकि संक्रमण में जो गिरावट आई है, उसका एक मात्र कारण लॉकडाउन ही है। यदि बाजार खुल जाएं तो भी लोगों को कम से कम 15 दिन अभी भीड़भाड़ वाली जगह में जाने से बचना होगा, क्योंकि सभी यदि घरों से निकलेंगे तो भीड़ बढ़ेगी और उस भीड़ में संक्रमित को पहचान पाना कठिन होगा। इसलिए अगले 15 दिन अभी और सावधान रहना होगा।

यशवंत कुमार, कलेक्टर

खबरें और भी हैं...