गमी में शामिल होने गया था शिक्षक परिवार:बेटी की शादी के लिए रखे थे जेवर, चुरा ले गए चोर

जांजगीर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बेटी की शादी के लिए शिक्षक दंपती ने तैयारी की थी। सोने के जेवर इकट्‌ठे किए थे। दिवाली के दिन परिवार में किसी की मौत हो जाने पर उसमें शामिल होने के लिए शिक्षक दंपती घर में ताला लगाकर गए थे। दिवाली की रात अज्ञात चोर ताला तोड़कर घुसे और 30 हजार रुपए कैश तथा सोने के जेवर चुराकर ले गए। दूसरे दिन पड़ोसियों से चाेरी की सूचना मिलने पर घर पहुंचे। वैसे तो करीब 10-15 तोला सोने के जेवर की चोरी होने का दावा किया जा रहा है किंतु पुलिस को लगभग 3 लाख के ही जेवर के बिल दिए गए हैं। पुलिस ने जेवर व कैश सहित 3 लाख 34 हजार की चोरी की रिपोर्ट दर्ज की है।

सक्ती - बाराद्वार रोड में पेट्रोल पंप के सामने रहने वाले शिक्षक दंपती वीरेंद्र राठौर और उनकी पत्नी सुशीला राठौर अपने बच्चों के साथ रहते हैं। वीरेंद्र सक्ती से लगे मसनिया के स्कूल मे पदस्थ हैं। उनकी पत्नी सुशीला सक्ती के ही कन्या हाईस्कूल में पदस्थ हैं। घर में उनकी बड़ी बेटी की शादी की तैयारी भी चल रही है। फिलहाल दिवाली उत्साह से मनाने के लिए वीरेंद्र राठौर के घर के लोग तैयारी में जुटे थे कि उनके परिवार में किसी की मौत हो गई। दुख के इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए वे अपने सक्ती के घर में ताला लगाकर गुरूवार को नंदौरखुर्द चले गए। रात में वहीं रूक गए। दूसरे दिन शुक्रवार की सुबह पड़ोसियों ने उन्हें सुबह फोन किया और बताया कि घर का ताला टूटा हुआ है। दरवाजा भी खुला है।

अप्रैल में बेटी की शादी इसलिए खरीदे जेवर
पुलिस को वीरेंद्र राठौर ने बताया है कि अप्रैल में उनकी बेटी की शादी है, इसी की तैयारी में उन्होंने सोने के जेवरात खरीदे थे। सूत्रों के अनुसार दावा तो किया जा रहा है कि 27 तोला सोना और करीब 150 तोला चांदी के जेवर व 30 हजार रुपए कैश की चोरी हुई है, लेकिन पुलिस को बिल नहीं दे सके। टीआई रुपक शर्मा ने बताया कि मामले में 3 लाख 34 हजार रुपए के जेवर व नकदी की चोरी की रिपोर्ट लिखाई गई है।

घर की दीवार फांद कर घुसे होंगे चोर
घर के मेन गेट का ताला नहीं तोड़ा गया था। इसकी वजह से आशंका है कि देर रात चोर दीवार कूदकर अंदर दाखिल हुए होंगे।

खबरें और भी हैं...