पुलिस कार्रवाई:लापता बालक का लोकेशन मिला महाराष्ट्र में, लॉकडाउन के बाद लेने जाएगी पुलिस

कोतबा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बोरवेल कंपनी में काम करने नाबालिग घर में बिना बताए चला गया महाराष्ट्र

कोतबा पुलिस ने गुम हुए एक बालक का पता लगा लिया है। वो बोरवेल की गाड़ी में काम करने के लिए महाराष्ट्र जा चुका है। उसके साथ गांव के अन्य लड़के भी घर पर बिना कुछ बताए चले गए हैं। इस मामले में चौकी पुलिस ने गुम इंसान का मामला कायम कर रखा है।

मिली जानकारी के मुताबिक 5 अक्टूबर 20 को चौकी क्षेत्र के ग्राम कर्राबेवरा के दो बालक राजकुमार चौहान व साथी 16 वर्षीय नाबालिग बालक अपने रिश्तेदार मटीपहाड़ छर्रा के दिनेश चौहान के साथ गए थे। दिनेश चौहान काम करने बोर गाड़ी में तमिलनाडु जा रहा था। 16 वर्षीय नाबालिग लड़के ने वरुण चौहान से संपर्क किया था और वह उसके साथ बोरिंग गाड़ी में काम करने घर में बिना बताए निकल गया था।

इसकी लिखित रिपोर्ट सीता सागर पति दशरथ चौहान व नीरा चौहान पति सहदेव चौहान निवासी कर्राबेवरा ने दर्ज कराई थी। लापता बालकों के माता-पिता ने आरोप लगाया था कि नाबालिग 16 वर्षीय बालक एवं राजकुमार चौहान को बहला फुसलाकर काम करने बाहर ले जाया गया है।

चौकी प्रभारी चन्द्र प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि मिले आवेदन के आधार पर गुम इंसान व 363 भादवी का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। मामले की तस्दीक में मोबाइल के जरिए संपर्क करने पर महाराष्ट्र के अहमदनगर में काम करने की जानकारी मिली है। वर्तमान में लाॅकडाउन होने की वजह बालक घर वापस नहीं हो पा रही है। लॉकडाउन समाप्त होने पर बच्चो को बरामद कर लाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...