पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खींचतान से परेशानी:केएसके में लॉकआउट से क्षेत्र का व्यवसाय प्रभावित हो रहा

अकलतरा2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 साल कार्य करने के बाद भी मजदूरों का वेतन पुनः निर्धारण एवं वार्षिक वेतन वृद्धि नहीं की गई

केएसके महानदी पावर कम्पनी लिमिटेड नरियरा प्रबंधन द्वारा 10 जनवरी से प्लांट में लॉक आउट करते हुए मजदूरों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। पावर प्लांट में लॉक आउट होने से 3 हजार मजदूरों के परिवार के समक्ष रोजी रोटी की समस्या खड़ी हो गई है। पावर प्लांट में 1842 भू-विस्थापितों में से 750 लोगों द्वारा प्लांट में नियमित रुप से कार्य करने के साथ-साथ 700 लोगों द्वारा जीवन निर्वाह भत्ता दिया जा रहा है। 392 भू-विस्थापितों को विवाद बताकर प्लांट प्रबंधन द्वारा जीवन निर्वाह भत्ता नहीं देने के साथ-साथ परिवार के लोगों को रोजगार भी नहीं दिया जा रहा है। केएसके महानदी पावर कम्पनी लिमिटेड नरियरा में सन् 2013 से बिजली का उत्पादन प्रारंभ हुआ था। प्लांट में सन् 2010 से भू-विस्थापित कार्य कर रहे हैं। दस वर्षों से कार्य करने के बाद भी भू-विस्थापित एवं अन्य मजदूरों का वेतन का पुनः निर्धारण नहीं किया गया न ही वार्षिक वेतन वृद्धि का लाभ भी मजदूरों को नहीं मिल पा रहा है। 10 सितम्बर 2019 को प्लांट प्रबंधन एवं मजदूरों के बीच आयोजित बैठक में प्लांट प्रबंधन द्वारा मजदूरों को 17 हजार रुपये न्यूनतम वेतन एवं इन्क्रीमेंट देने की बात कही गई थी, लेकिन प्लांट प्रबंधन द्वारा 17 सितम्बर 2019 को प्लांट में लॉक आउट कर दिया गया। एक हफ्ते तक लॉक आउट होने के बाद प्लांट में उत्पादन शुरु हुआ, लेकिन मजदूरों की मजदूरी नहीं बढ़ाई गई।

विधायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा
विधायक सौरभ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा है। उन्होंने बताया है कि केएसके महानदी पावर कम्पनी लिमिटेड नरियरा द्वारा प्लांट की ब्रीडिंग प्रक्रिया को बाधित करने के लिए 10 जनवरी से लॉकडाउन कर दिया गया। प्लांट प्रॉफिट में चलने के बाद भी मजदूरों के वेतन में बढ़ोतरी नहीं की जा रही है। प्लांट संचालन के लिए प्लांट द्वारा वाटर रिसोर्स डिपार्टमेंट एवं आरसीआईपीएल दो अलग-अलग कम्पनियां बनाई गई थी, उन्होंने इसकी जांच की मांग की है।

लॉकडाउन के चलते क्षेत्र का व्यवसाय प्रभावित
केएसके महानदी पावर कम्पनी लिमिटेड नरियरा में 3 हजार मजदूर कार्यरत हैं। मजदूरों को प्रति माह 10 तारीख के बाद वेतन का भुगतान किया जाता है। प्लांट द्वारा लॉक आउट की घोषणा से मजदूरों को वेतन का भुगतान नहीं हो पाया। प्लांट लॉकडाउन होने से नगर सहित ग्राम तरौद, बनाहिल, नरियरा, रोगदा, अमोरा गांव का व्यवसाय प्रभावित हो रहा है।

मंजू सिंह ने कलेक्टर को दिया ज्ञापन
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी सदस्य मंजू सिंह ने कलेक्टर यशवंत कुमार को ज्ञापन देकर प्लांट को पुनः चालू करने की मांग की है। मंजू सिंह ने कलेक्टर को बताया कि पूर्व नियोजित षड़यंत्र के तहत प्लांट में एकाएक लॉकडाउन लगाया गया है। प्लांट के अन्दर कोयले के भंडार की जांच करने के साथ-साथ जिला प्रशासन द्वारा जांच कमेटी नियुक्त की जाए।

इंटक द्वारा प्रबंधन के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की मांग
केएसके महानदी पावर कर्मचारी संघ इंटक के महामंत्री राघवेन्द्र व्यास द्वारा जिला श्रम पदाधिकारी को ज्ञापन देकर विरुद्ध कानूनी कार्यवाही करने की मांग की गई। मामले में कार्यवाही का आश्वासन दिया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser