पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आक्रोश:ठेले पर सिलेंडर और बाइक खड़ी कर दिलाई अच्छे दिनों की याद

जांजगीर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गृहणियों के पक्ष में कांग्रेस नेत्री तो पेट्रोल पर युवा नेता केंद्र सरकार पर बरसे

एलपीजी और पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर कांग्रेस ने सोमवार को केंद्र सरकार के खिलाफ रोचक अंदाज में विरोध प्रदर्शन किया। दोपहर में कांग्रेसी नेता जी चौक से ठेले पर रसोई गैस चूल्हा और बिना पेट्रोल बाइक लेकर नारेबाजी करते हुए कचहरी चौक पर पहुंचे। इस दौरान बाइक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुखौटा पहने यूथ नेता ने पीएम मोदी के अंदाज में लोगों को केंद्र सरकार के अच्छे दिनों की याद दिलाई। कचहरी चौक स्थित इंदिरा गांधी स्मारक पर एसडीएम को बढ़ती महंगाई के विरोध में ज्ञापन सौंपा गया। कांग्रेस द्वारा केंद्र सरकार द्वारा 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उनके नेताओं ने तत्कालीन यूपीए सरकार पर पेट्रोल डीजल और रसोई गैस के दामों का विरोध करते हुए नारा दिया। बहुत हुई मंहगाई की मार अबकी बार मोदी सरकार, लेकिन पिछले 12 दिनों से रोजाना पेट्रोल उत्पाद के दामों में वृद्धि हो हरी है, जो केंद्र सरकार की आर्थिक कुनीति का परिणाम है। पिछले 45 दिनों में 19 बार पेट्रोल-डीजल के दाम में वृद्धि हुई है। फरवरी 2020 से लेकर 2021 तक पेट्रोल कीमत 17 रुपए 5 पैसे तो डीजल की कीमत 15 रुपए 7 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। 2014 में जब कच्चे तेल की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 93 डालर प्रति बैरल थी, उस समय पेट्रोल 71 रुपए प्रति लीटर और डीजल 53 रुपए प्रति लीटर थी। 7 साल बाद 2021 में कच्चे तेल का दाम 63 डालर प्रति बैरल होने के बावजूद पेट्रोल 89.54 रुपए प्रति लीटर और डीजल 89.95 रुपए प्रति लीटर है। उक्त बाते कचहरी चौक पर सभा को संबोधित करते हुए पूर्व प्रदेश कांग्रेस महामंत्री शशिकांता राठौर, दिनेश शर्मा, गीता देवांगन, जिला युकांध्यक्ष प्रिंस शर्मा, इंजी रवि पाण्डेय, रमेश पैगवार, देवेश सिंह, भगवानदास गढ़ेवाल, रफीक सिद्दिकी, विवेक सिंह सिसोदिया ने कही। इस दौरान भारी संख्या में कांग्रेस के नेता व पदाधिकारी उपस्थित रहे।

एलपीजी से प्रत्येक घरों का बिगड़ रहा बजट: गीता
कांग्रेस मिहला मोर्चा का नेतृत्व कर रही जिला अध्यक्ष गीता देवांगन ने बताया कि दिसंबर 2020 से लेकर फरवरी 2021 तक रसोई गैस के दामों में 175 रुपए तक बढ़ोतरी हुई है। इसकी मुख्य वजह केंद्र सरकार की आर्थिक नीति पर नियंत्रण नहीं होना है। रसोई गैर पर केंद्र का लगाम नहीं होने से गृहणियों की रसोई का बजट बिगड़ रहा है। मध्यम वर्गीय परिवार को नियमित सब्सिडी भी नहीं दी जा रही है। जटिल प्रक्रिया की वजह से अधिकांश परिवार इससे दूर है।

एक्साइज ड्यूटी में 10 गुना तक वृद्धि का आरोप
कांग्रेस नेता विवेक सिंह सिसोदिया व युकां नेता प्रिंस शर्मा ने बताया कि यूपीए सरकार की तुलना में एक्साइज ड्यूटी में 10 गुना वृद्धि की है। केंद्र सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी डीजल के लिए 15.83 पैसे से बढ़ाकर 31.83 रुपए, पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 19.28 से बढ़ाकर 32.98 रुपए कर दिया गया है, जो कि 2014 में पेट्रोल पर केवल 9.48 रुपए और डीजल पर 3.56 रुपए तय किया गया था। पिछले 7 वर्षों में पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 10 गुना और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 4 गुना बढ़ाई गई है ।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें