पुलिस सुस्त इसलिए एक और दु:साहस:कंट्रोल रूम के सामने रात 12.45 बजे टूटा मेडिकल स्टोर का ताला

जांजगीर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कैश काउंटर से रकम निकालता चोर। - Dainik Bhaskar
कैश काउंटर से रकम निकालता चोर।
  • पहले दुकान की चाबी चुराई, ताला बदला तो दूसरे दिन तोड़ कर घुसा और कैश ले भागा
  • 5 मिनट में 60 हजार रुपए चुरा भाग गया चोर

जिला मुख्यालय में पुलिस कंट्रोल रूम के सामने संचालित मेडिकल स्टोर का ताला तोड़कर नकाबपोश चोर अंदर घुस गया और इत्मीनान से कैश निकालकर जेब में भरता रहा और एक पेटी सहित करीब 60 हजार रुपए कैश निकाल कर पांच मिनट के अंदर ही मेडिकल से बाहर निकल गया।

आरोपी सीसी टीवी में तो कैद हो गया, लेकिन नकाब लगाए होने के कारण उसे पहचानना कठिन हो रहा है, किंतु इस चोर और दिन पहले मंगलवार की रात बलौदा की एक दुकान में हुई चोरी के आरोपी में एक समानता दिख रही है। दोनों ही मामले में आरोपी नीली जिंस, काले रंग की फूल शर्ट पहना है और दोनों ही तस्वीर में चोर के हाथ में कलाई के पास सफेद रंग की मोहरी दिख रही है।

जिला मुख्यालय में चाेर इन दिनों पुलिस को चुनौती दे रहे हैं। चोरी के छोटे बड़े करीब आधा दर्जन से अधिक मामले पिछले सप्ताह भर में जांजगीर जिला मुख्यालय में हो चुके हैं। इनमें से किसी भी मामले में पुलिस आरोपी या आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई है। बुधवार की रात एक चोर पुलिस की गश्त व्यवस्था को चुनौती देते हुए मेन रोड में पुलिस कंट्रोल रूम के सामने संचालित अशोक मेडिकल का ताला तोड़कर शटर उठाकर रात 12:45 बजे घुस गया।

खुद को बचाने के लिए उसने काले रंग का नकाब भी अपने चेहरे पर लगा लिया था, जिसके कारण उसका चेहरा सीसी टीवी में नहीं आया। मेडिकल अंदर घुसने के बाद आरोपी ने पहले दराज को खोलने की कोशिश की। नहीं खुलने पर वह उसे तोड़ने के लिए कुछ खोजने अंदर गया, फिर लौटकर उसने पास ही रखे चाकू से दराज खोला।

उसी दराज में पैसे रखे थे, जिसे निकालकर उसने अपनी पैंट की पीछे की जेब में रखना शुरू किया। इसके बाद वह कैश काउंटर से एक- एक कर पैसे निकाल कर पन्नी में भरने लगा। इस दौरान वह केवल पांच मिनट मेडिकल के अंदर रहा और 60 हजार रुपए चुराकर उसी रास्ते से वापस निकल गया।

दो दिन पहले किसी ने चुराई थी चाबी-

पुलिस के अनुसार दो दिन पहले किसी ने मेडिकल स्टोर के अंदर से चाबियों का गुच्छा चुरा ली थी। मेडिकल संचालक ने बताया कि चाबी चोरी होने के बाद उन्होंने चार नए ताले लगाए थे। मगर चोर उस नए ताले को तोड़कर अंदर घुस गया।

मंदिर के पीछे से घुमकर लौटा डॉग स्क्वाॅयड

​​​​​​​डॉग स्क्वायड भी मौके पर पहुंचा। मेडिकल से निकल कर डॉग पीछे की ओर मंदिर की ओर से घुमते हुए मेन रोड में आ गया। इसके बाद वह मेडिकल से थोड़ी दूर पुरानी जनपद पंचायत के कार्यालय के गेट तक गया। इसके बाद वापस लौट आया।​​​​​​​

दुबला पतला होने से चोर ने शटर को कम ही खोला

आरोपी चोर एकदम दुबला पतला है। इसलिए जब वह घुसा तो भी उसने शटर अधिक नहीं उठाया। अंदर घुसने के बाद शटर बंद कर दिया। इसके बाद निकलते समय भी वैसे ही सोकर बाहर निकल गया। मेडिकल स्टोर पहुंचे एक व्यक्ति ने बताया कि तीन दिन पहले तिलई के भी मेडिकल स्टोर में ऐसी ही चोरी हुई थी। वहां से भी चोर केवल कैश ही लेकर भाग गया था। इसके बाद भी पुलिस अलर्ट नहीं हुई और कंट्रोल रूम के सामने ही चोरी हो गई।

पखवाड़े भर बाद भी चोर पुलिस की गिरफ्त से बाहर

जिला मुख्यालय में लगातार चोरी की वारदातें बढ़ने लगी है। यहां पखवाड़े भर के भीतर अलग अलग स्थानों पर चोरी हो चुकी है। पुलिस कॉलोनी निलयम में भी चोर पहुंच चुके हैं, हाल ही में सेना के एक जवान के घर भी चोरी हुई थी। 28-29 सितम्बर की दरम्यानी रात अज्ञात चोरों ने मेन रोड में संचालित विजय ज्वेलर्स के पीछे का दरवाजा तोड़कर बड़ी चोरी की थी। लेकिन पुलिस किसी भी मामले में आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई है।

खबरें और भी हैं...