पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीनेशन अभियान:वैक्सीनेशन सेंटर में दिनभर किए इंतजार, नहीं पहुंचा कोई

अकलतरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ब्लॉक में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोग अब कोविड वैक्सीन लगवाने रुचि नहीं दिखा रहे हैं। रविवार को भी वैक्सीनेशन सेंटरों में सुबह तय समय से स्वास्थ्य कर्मचारी शाम पांच बजे तक बैठे रहे, लेकिन एक व्यक्ति भी वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंचा। इसी तरह बीते एक सप्ताह से पीएचसी कोटमीसोनार, पोड़ी दलहा, कापन, उप स्वास्थ्य केंद्र हरदी, चंगोरी, पिपरदा, सोरमाल, पौना, परसाही, रसेड़ा सांकर व तरोद सेंटर में एक भी व्यक्ति वैक्सीन लगवाने नहीं आ रहे हैं।

सुबह 10 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक स्वास्थ विभाग के कर्मी वैक्सीन लगाने के लिए सेंटर में लोगों को इंतजार करते रहते हैं, लेकिन वैक्सीन लगवाने में लोग दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। जिसकी वजह से इन सभी वैक्सीनेशन सेंटरों में पूरे दिन सन्नाटा पसरा रहता है। गांव में कोविड वैक्सीन को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैल गई है। इसके चलते ग्रामीण वैक्सीन लगवाने से परहेज कर रहे हैं। कोटमीसोनार ब्लॉक में सबसे बड़ा पंचायत है, गांव की जनसंख्या 10 हजार से ज्यादा है। जनसंख्या के हिसाब से 45 वर्ष से अधिक आयु के 20 प्रतिशत लोग 2050 को कोविड की वैक्सीन लगनी है, पर गांव में 592 लोगों ने ही वैक्सीन लगवाई है। 29% ही वैक्सीनेशन हो सका है। राज्य शासन एवं स्वास्थ विभाग द्वारा मिनीमाता मंगल भवन, 5 पीएचसी,13 स्वास्थ केंद्रों में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए व्यवस्था की है, लेकिन अफवाह के कारण लोग नहीं पहुंच रहे हैं।

आश्रित ग्राम में सिर्फ पांच ने लगवाई वैक्सीन
कोटमीसोनार के आश्रित ग्राम अमेरी में 45 वर्ष से अधिक उम्र के 48 लोगों में से 5 ने ही अबतक वैक्सीन लगवाई है। मुरलीकंजी में 166 लोगो मे से 41 लोगों द्वारा, ग्राम तागा में 657 लोगो मे से 231 लोगों द्वारा, पकरिया(झूलन)में 837 लोगों में से 348 लोगों ने ही वैक्सीन लगवाई गई है।

खबरें और भी हैं...