पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

युवक का ड्रामा:कोर्ट से नोटिस मिली तो चढ़ा बिजली टावर पर, तार में कच्ची लकड़ी फेंक बंद कर देता था बिजली

जांजगीर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
टॉवर में चढ़ा युवक। - Dainik Bhaskar
टॉवर में चढ़ा युवक।

जमीन के ऊपर से गुजरे हाइटेंशन तार में कच्ची लकड़ी आदि फेंक कर बिजली की सप्लाई बंद करने वाले युवक के खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद से उसे गिरफ्तार कर लिया गया था पर उसे जमानत मिली तो फिर उसने वैसा ही करना शुरू कर दिया। पावर प्लांट के कर्मियों ने उसकी जमानत रद्द करने के लिए कोर्ट में आवेदन दिया।

युवक को कोर्ट से नोटिस मिली तो वह बुधवार को बिजली टावर में चढ़ गया। दिन भर उसे उतरने के लिए अधिकारी मनाते रहे, पर वह नहीं माना। एसडीएम और एसडीओपी मनाकर लौटे तो थोड़ी देर बाद युवक नीचे उतरा रास्ते मेंं उसने तहसीलदार की गाड़ी देखी तो फिर से चढ़ गया।

एसडीओपी बीएस खूंटिया ने बताया कि कोमाे निवासी युवक बुधेश्वर पटेल की जमीन के ऊपर से बिजली का हाइटेंशन तार गुजरा है। उस तार पर वह गीली लकड़ी आदि डाल देता था, जिससे बिजली बंद हो जाती थी। इसकी शिकायत आरकेएम पावर प्लांट के कर्मियों ने थाना में की थी। शिकायत पर मामला दर्ज हुआ और गिरफ्तारी हुई थी। बाद में उसे कोर्ट से जमानत मिल गई। जमानत मिलने के बाद फिर वह वैसी ही हरकत करने लगा तो प्लांट के अधिकारियों ने जमानत रद्द करने के लिए कोर्ट में आवेदन दिया। उसे नोटिस दी गई तो वह बुधवार की सुबह 9 बजे हाइटेंशन बिजली टावर में चढ़ गया।

युवक की मांग: केस वापस ले और नौकरी पर रखे

खूंटिया ने बताया कि युवक उसके ऊपर लगे केस को वापस लेने तथा नौकरी देने की मांग करता रहा। युवक को उतारने के लिए एसडीएम आरपी आंचला, एसडीओपी बीएस खूंटिया पहुंचे थे। एसडीएम ने उसे समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना शाम करीब 7 बजे जब सब वहां से हट गए तो वह नीचे उतरा। थोड़ी दूर में उसने एक अन्य अधिकारी की गाड़ी देख ली तो वापस चढ़ गया। रात 8 बजे तक युवक टावर से नहीं उतरा था।

खबरें और भी हैं...