पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी का मामला:लोगों को हुंडई कार दिलाने का लालच देकर ठगे थे 97 हजार 500, गिरफ्तार

जशपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दस लोगों को 25-25 सौ रुपए लेकर जोड़ने पर एक हुंडई कार मिलेगी। ऐसा प्रलोभन देकर लोगों से रुपयों की ठगी करने वाले कुर्सीधारा एजेंसी के एक एजेंट को दुलदुला पुलिस ने दो साल बाद गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। आरोपी के खिलाफ वर्ष 2018 में थाने में अपराध कायम किया गया था। आरेापी फरार चल रहा था।

जानकारी के मुताबिक दुलदुला निवासी जुलेता लकड़ा पति फ्रांसिस लकड़ा ने आवेदन देकर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि माह फरवरी 2018 में विनोद महतो अपने साथी सुनीता देवी, सूरज सिंह, रंजीत साहू के साथ उसके घर आया था। उसने कुर्सीधारा नामक कंपनी के बारे में बताया और जुलेता लकड़ा, श्यामसुंदर गुप्ता, सुबोध प्रसाद साहू तीनों को कुर्सीधारा एजेंसी में जोड़ने के नाम पर 2500-2500 रुपए लेकर जोड़ा। आरोपी ने एजेंसी से जुड़ने एवं 10 व्यक्ति जोड़कर 25000 रुपए जमा करने पर एजेंसी से जुड़े सदस्यों को हुंडई कंपनी का कार 5 मार्च 2018 तक मिलने की बात कही थी। ऐसा कहकर आरोपी ने 97500 रुपए इनसे ले िलए। पर 5 मार्च को किसी को भी कार नहीं मिला। जब जुलेता व उसके साथ कंपनी में जुड़े लोग उससे कार की बात करने लगे तो आरोपी गोलमोल जवाब देने लगा। इस मामले मेें हुई शिकायत की जांच के बाद आरोपी के खिलाफ धारा 420, 120(बी) का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। आरोपी रंजीत साहू के तीन साथियों की गिरफ्तारी पूर्व में हो चुकी है। रंजीत साहू घटना के बाद से फरार था। रविवार को रंजीत साहू अपने गांव आया हुआ था। पुलिस को उसके मोबाइल लोकेशन के आधार पर उसके घर लौटने की सूचना मिल गई और आरोपी के घर की घेराबंदी कर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...