क्षेत्र में दहशत:हाथियों ने रात में बाउंड्री तोड़ी, वहीं सुबह लगा दी क्लास, डर से आधे बच्चे नहीं आए

जशपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ओडिशा सीमा पर ग्राम सोगजोर के माटीहेजा गांव में बुधवार की देर रात 7 हाथी गांव में घुस गए। हाथियों ने गांव के प्राथमिक शाला भवन की बाउंड्री तोड़ दी और भवन का गेट भी तोड़ दिया। इसी कैंपस में संचालित आंगनबाड़ी भवन की दीवार भी हाथियों ने तोड़ दी।

हाथियों ने आंगनबाड़ी केंद्र में बनाए गए पोषण वाटिका में लगी सब्जियों को चट करते हुए यहां रखे रेडी टू ईट के 20 पैकेट्स खा लिए। इसके बाद हाथियों ने स्कूल के मध्याह्न भोजन कक्ष की खिड़की तोड़ी और वहां रखा 50 किलो चावल भी खा लिया। हाथियों के बस्ती में घुस आने के बाद गांव में हड़कंप मच गया। लेकिन दूसरे ही दिन इसी स्कूल में बच्चों की जान खतरे में डालकर पढ़ाई भी कराई गई। अफसरों ने छुट्टी तक नहीं कराई।

आधे बच्चे तो स्कूल ही नहीं आए। बुधवार की रात गांव के लोग हाथियों को खदेड़ने में लगे रहे। सरकारी भवन को क्षति पहुंचाने के बाद हाथियों के दल ने लौटते हुए इस गांव के लक्ष्मण विश्वकर्मा का घर भी तोड़ दिया। जिससे लक्ष्मण विश्वकर्मा बेघर हो गए हैं। हाथियों के दल की मौजूदगी के कारण रातभर ग्रामीण हाथियों को खदेड़ने में जुटे रहे। बीते कई दिनों से ओडिशा से लौटे हाथियों के दल की मौजूदगी के कारण अंकिरा क्षेत्र के ग्रामीण परेशान हैं। धान कटाई मिसाई के सीजन में हाथियों की वजह से ग्रामीणों की नींद खराब हो रही है।

खबरें और भी हैं...