पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नवरात्रि पूजा:वैदिक, तांत्रिक, राजसी विधि से हो रहा हवन

जशपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नौ दिवसीय यज्ञ में भक्त महामारी से बचाव की कर रहे हैं कामना

नवरात्रि में समूचा शहर वैदिक मंत्र से गूंज रहा है। प्रतिपदा से लेकर नवमी तक शहर के मां काली मंदिर व बालाजी मंदिर में यज्ञ विश्व कल्याण के लिए कराया जा रहा है। वैदिक, तांत्रिक व राजसी विधि से देवी के विशेष अनुष्ठान में राजपरिवार के सदस्य, पुरहित, मिर्धा व कोटवार की अहम भूमिका होती है। नौ दिनों तक होने वाले विशेष अनुष्ठान के बाद दशमी को पूर्णाहुति दी जाएगी। मान्यता है कि पुरोहितों द्वारा राजपरिवार के सदस्यों के साथ नवरात्रि में किए जाने वाले दुर्गापाठ, विष्णु जाप व विशेष हवन से शहर में रोग, दुख नष्ट होते हैं। शहर की सुरक्षा के साथ यहां महामारी व अन्य विपदा ना आए, इस उद्देश्य से यह अनुष्ठान किया जाता है। इस वर्ष विशेष रूप से विश्वव्यापी कोरोना महामारी से सुरक्षा की कामना को लेकर अनुष्ठान किया जा रहा है। पुस्तकाचार्य पं. विनोद मिश्रा ने बताया कि इस अनुष्ठान में शामिल होने वाले समस्त पुरोहित, आचार्य, पुस्तकाचार्य नौ दिन का उपवास रहते हैं। यह ना सिर्फ जशपुर की सुख शांति व समृद्धि के लिए बल्कि विश्वकल्याण के लिए किया जाता है। हवन का जो धुआं वायु में विलीन होता है, उसमें मंत्रों की वह शक्ति होती है कि वह पूरे वातावरण को पवित्र करता है और बीमारियों के वायरस इससे नष्ट होते हैं।

इस वर्ष नहीं होगा महामौर
महामारी का असर दशहरा के हर अनुष्ठान में देखने को मिल रहा है। जशपुर दशहरे के इतिहास में पहली बार नवमी के दिन होने वाला महामौर इस वर्ष नहीं हाेगा। महामौर में जो लोग मां को विशेष अर्पण करना चाहते हैं, वे अपने घरों में ही करेंगे। सिर्फ मंदिर में पूजा होगी। आम लोगों को इस अनुष्ठान में शामिल नहीं किया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें