धान खरीदी:धान की तस्करी रोकने के लिए बनाया जांच दल

जशपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लोदाम में झारखण्ड जाने वाले रास्ते पर वाहनों की जांच करते। - Dainik Bhaskar
लोदाम में झारखण्ड जाने वाले रास्ते पर वाहनों की जांच करते।

धान खरीदी को दृष्टिगत रखते हुए सीमावर्ती राज्यों से धान की आवक के रोकथाम के लिए जांच दल का गठन किया है। कलेक्टर अग्रवाल ने कहा कि खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में खरीदी केंद्रों में धान उपार्जन तिथि से खरीदी पूर्ण होने तक पड़ोसी राज्यों से धान लाकर खरीदी केंद्रों में बेचने की आशंका रहती है। इसकी निगरानी के लिए चेकिंग दल गठित किया है।

ओडिशा एवं झारखंड राज्य की सीमा जिले से लगा हुआ है, जहां से आवक की संभावना बनी रहती है। इसके लिए जांच दल का गठन किया गया है, जिसमें जशपुर तहसील के गम्हरिया उपार्जन केंद्र में पड़ोसी राज्य झारखंड की सीमा लगती है। इसके लिए नायब तहसीलदार व्यास नारायण साहू, खाद्य निरीक्षक आलोक कुमार टोप्पो, मंडी उप निरीक्षक नर्मदा प्रसाद यादव, को जांच दल बनाया है।

इसी प्रकार दुलदुला तहसील के दुलदुला उपार्जन केंद्र में झारखंड एवं ओडिशा पड़ोसी राज्य हैं, जिसके लिए तहसीलदार दुलदुला लक्ष्मण राठिया, खाद्य निरीक्षक दुलदुला संदीप गुप्ता, खाद्य निरीक्षक कुनकुरी अनूप कुजूर एवं फरसाबहार तहसील के उपार्जन केंद्र कोनपारा, तपकरा, गंजियाडीह उड़ीसा सीमा पर लगे हुए हैं जिसके जांच के लिए प्रभारी तहसीलदार कमलेश कुमार मिरी, पत्थलगांव सचिव मंडी सुरेंद्र कुमार पटनायक, फरसाबहार खाद्य निरीक्षक मोहम्मद अलाउद्दीन खान एवं उप निरीक्षक मंडी हलदर प्रसाद डनसेना को जांच दल में शामिल किया गया है। कलेक्टर ने बताया कि जांच दल द्वारा अंतरराज्यीय बैरियर लोदाम व लवाकेरा एवं धान आवक की संभावित मार्गों में नियमित जांच करेंगे।

खबरें और भी हैं...