पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धान की फसलों को भारी क्षति पहुंची:नुकसान; आंधी से गिरे पेड़, उड़ गए टीन

कोतबा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रविवार को दोपहर आई आंधी, पानी ने जमकर तबाही मचाई। कई स्थानों पर लगे टीन शेड हवा में उड़ गए। आंधी के चलते विशेषकर धान की फसलों को भारी क्षति पहुंची। कई पेड़ गिर गए। बारिश से कोतबा के लिए खेत और खलिहानों में कटाई कर रखी धान की फसल भींगने की आशंका है।

कोतबा क्षेत्र में आंधी के चलते सोहन साहू का मकान की छत पर लगे एसबेस्टस सीट उड़ गए, जिससे मकान में रखे सामान सहित हजारों का नुकसान हुआ है, वही गोपाल राय के मकान को भी क्षति पहुंची है। नरेश साहू के घर के छप्पर भी हवा में उड़ गए। कई स्थानों पर पेड़ गिर गए। आंधी-तूफान ने कोतबा में जमकर तबाही मचाई, वही ठेठेटांगर में नरेश साहू का मुुर्गी फॉर्म पूरी तरह बर्बाद हो गया। फार्म में लगे ईंट एवं एसबेस्टस सीट पुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। घटना का जायजा लेने पहुंचे नगर पंचायत कोतबा के वार्ड क्रमांक 8 के पार्षद सत्यनारायण बंजारा ने प्रभावितों को आश्वासन देकर कहा कि राजस्व विभाग के पटवारी को बुलाकर मुआवजा प्रकरण तैयार कराया जाएगा।

सभी प्रभावितों की हरसंभव मदद करने का प्रयास किया जा रहा है, वही कोतबा क्षेत्र में 1400 हेक्टेयर के भूभाग में लगे ग्रीष्मकालीन धान को किसान कटाई कर समेटने में जुटे थे पर अचानक हुई बारिश से धान कटाई में लगी हार्वेस्टिंग मशीनें खड़ी हो गई। इससे कटाई का कार्य भी बुरी तरह प्रभावित हुआ। वही खेतों में कटकर रखे धान के ढेर के भी खराब होने की आशंका है।

खबरें और भी हैं...